Biography and Autobiography meaning in hindi

Biography and Autobiography meaning in hindi

नमस्कार दोस्तो, आपने अक्सर अपने जीवन के अंतर्गत biography and autobiography शब्द के बारे में तो जरूर सुना होगा, या अनेक लोगों के द्वारा इसका इस्तेमाल किया जाता है। दोस्तों क्या आप जानते हैं कि biography and autobiography का हिंदी भाषा में मतलब क्या होता है,(biography and autobiography meaning in hindi), यदि आपको इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है, तथा आप इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आज की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इस विषय के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताने वाले हैं कि biography and autobiography का हिंदी भाषा में मतलब क्या होता है, हम आपको इस विषय से जुड़ी लगभग हर एक जानकारी इस पोस्ट के अंतर्गत शेयर करने वाले हैं। तो ऐसे में आज का की यह पोस्ट आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाली है, तो इसको अंत जरूर पढ़िए।

biography and autobiography का हिंदी भाषा में मतलब क्या होता है? (biography and autobiography meaning in hindi)

तो दोस्तों यदि आप जानना चाहते हैं कि biography and autobiography का हिंदी भाषा के अंतर्गत क्या मतलब होता है, तो आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि बायोग्राफी का मतलब होता है किसी भी व्यक्ति की आत्मकथा यदि किसी भी चीज की आत्मकथा या फिर उसकी जीवनी। जैसे किसी भी व्यक्ति की बायोग्राफी के अंतर्गत उस व्यक्ति के पूरे जीवन का वर्णन किया जाता है कि उसने अपने जीवन में क्या-क्या किया था, उनका जन्म कहां हुआ था, फिर जन्म होने के बाद उनके जीवन में क्या-क्या हुआ था। और जन्म से लेकर उसकी मृत्यु तक सारी जानकारी बायोग्राफी के अंतर्गत होती है। लेकिन दोस्तों बायोग्राफी दूसरे व्यक्ति के द्वारा लिखी जाती है, न कि उस खुद व्यक्ति के द्वारा जिसकी बायोग्राफी है।

इसके विपरीत ऑटो बायोग्राफी उस आत्मकथा या फिर उस जीवनी को कहा जाता है जो खुद के द्वारा लिखी जाती है, तथा खुद के ऊपर ही लिखी जाती है। यदि कोई भी व्यक्ति अपने बारे में या फिर अपने जीवन के बारे में कोई बायोग्राफी लिखता है तो उसको ऑटो बायोग्राफी कहा जाता है।

बायोग्राफी तथा ऑटो बायोग्राफी में क्या अंतर होता है?

दोस्तों बायोग्राफी किसी अन्य व्यक्ति के द्वारा लिखी जाती है, जबकि ऑटो बायोग्राफी उसी व्यक्ति के द्वारा लिखी जाती है, जिसके बारे में बायोग्राफी है।

biography and autobiography meaning in hindi

जीवनी की प्रमुख विशेषताएँ

महान और सामाजिक-ऐतिहासिक कार्य करने वाले व्यक्ति की विशिष्टता बताने के लिए लिखी गई जीवनी ‘जीवनी’ कहलाती है। जीवनी को ही जीवनी, जीवनी या जीवन चरित्र कहा जाता है।

जीवनी लिखने में जन्म और मृत्यु के बीच उस व्यक्ति विशेष के जीवन और कार्य का गहन अध्ययन किया जाता है। हिंदी में ऐसे कई जीवनीकार हुए हैं जिन्होंने भारत के ऐतिहासिक महापुरुषों की जीवनी लिखी है। इस विधा के लेखकों को भावुकता के बजाय तथ्यों पर अधिक ध्यान देना होगा।

आत्मकथा की प्रमुख विशेषताएँ

आत्मकथा साहित्य की अत्याधुनिक विधाओं में आती है। यह एक व्यक्ति द्वारा आत्म-अभिव्यक्ति है। इस विधा में लेखक स्वयं नायक और मुख्य पात्र है। इसमें लेखक स्वयं अपनी कहानी के माध्यम से स्वयं को खोलता है, अपने अनुभव बताता है और आत्मनिरीक्षण करता है।

महात्मा गांधी की आत्मकथा, महावीर प्रसाद द्विवेदी की आत्मकथा, डॉ. हरिवंश राय ‘बच्चन’ की आत्मकथा आदि बहुत लोकप्रिय हुईं। डॉ. बच्चन ने अपनी आत्मकथा चार भागों में लिखी – क्या भूलून क्या याद करूं, बसेरा से दूर, नीड का निर्माण फिर और दशद्वार से सोपान तक। वास्तव में ये रचनाएँ बच्चन के जीवन के दस्तावेज हैं। इस तरह और भी कई महान लोगों ने अपनी आत्मकथाएँ लिखी हैं।

आज आपने क्या सीखा

तो आज की इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि biography and autobiography का हिंदी भाषा में क्या मतलब होता है, (biography and autobiography meaning in hindi), हमने आपको इस पोस्ट के अंतर्गत के विषय से जुड़ी लगभग हर एक जानकारी को देने का प्रयास किया है। इसके अलावा हमने आपके साथ इस पोस्ट के अंतर्गत biography and autobiography से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां शेयर की है, जैसे कि बायोग्राफी तथा ऑटो बायोग्राफी क्या होता है। बायोग्राफी और ऑटो बायोग्राफी के अंदर क्या क्या अंतर होता है।

आज की इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको इस विषय से जुड़ी लगभग हर एक जानकारी को देने का प्रयास किया है। हमें उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा दी गई यह इंफॉर्मेशन पसंद आई है, तथा आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया जानने को मिला है। इस पोस्ट को सोशल मीडिया के माध्यम से आगे शेयर जरूर करें, तथा इस विषय के बारे में अपनी राय हमें नीचे कमेंट में जरूर बताएं।

FAQ

बायोग्राफी और ऑटो बायोग्राफी में क्या अंतर है?

एक जीवनी एक व्यक्ति के जीवन के बारे में एक विस्तृत जानकारी है जो किसी अन्य व्यक्ति द्वारा लिखी जाती है। लेकिन ऑटो बायोग्राफी अपने आप में लिखी एक जाति है।

आत्मकथा कौन लिखता है?

एक आत्मकथा उस व्यक्ति द्वारा लिखी गई एक व्यक्ति के जीवन की कहानी है। क्योंकि लेखक भी कहानी का मुख्य पात्र है, जीवनी पहले व्यक्ति में लिखी जाती है।

अपने जीवन के बारे में कैसे लिखें?

अपने जीवन की घटनाओं को लिखिए। अपने जीवन का अध्ययन करके आत्मकथा लिखना शुरू करें। अपने जीवन के सबसे अच्छे पलों का शेड्यूल रखने से आपके लिए अपने जीवन के हर अच्छे पल को इस कहानी में शामिल करना आसान हो जाएगा, और यह आपको अपने लेखन के लिए एक रूपरेखा भी देगा।

आत्मकथा का उद्देश्य क्या है?

आत्मकथा का उद्देश्य लेखक के जीवन के अनुभवों और उपलब्धियों को चित्रित करना है। इसलिए, अधिकांश आत्मकथाएँ आमतौर पर विषय के जीवन में बाद में लिखी जाती हैं। यह लेखक के दृष्टिकोण से लिखा गया है, इसलिए यह आमतौर पर कहानी सुनाने के लिए पहले व्यक्ति के खातों का उपयोग करता है।

Leave a comment