हिरण को इंग्लिश में क्या कहते हैं? | Hiran Meaning In English

दोस्तों, हिरण एक आकर्षक जीव है जो अत्यंत ही सुंदर और भोला पशु माना जाता है। यह पशु अत्यंत ही तेज गति से दौड़ सकता है।  कई बार इतना तेज दौड़ता है कि उसे चीता या पैंथर भी नहीं पकड़ पाते। लेकिन हिरण के बारे में और भी कई ऐसी बातें हैं जो आप जान सकते हैं।

यदि आप भी आज यह जानना चाहते हैं कि हिरण पृथ्वी पर कब से है? Hiran ko english mein kya bolate hain? हिरण के कितने सींग होते हैं? हिरण के कितने दांत होते हैं? यदि हाँ तो, आज हम आपको हिरण के बारे में लगभग सारी जानकारी उपलब्ध कराने की कोशिश करेंगे, और आपको बताएंगे की hiran ko english mein kya kahate hain. तो चलिए शुरू करते हैं

हिरण को इंग्लिश में क्या कहते हैं? | Hiran ko english mein kya bolate hain?

Hiran ko english mein kya bolate hain?
harin ko english mein kya kahate hain

मित्रों, हिरण को अंग्रेजी में डीर (Deer) के नाम से जाना जाता है। इसके अलावा हिरण की अनेकों प्रजातियां होती है। उन सभी प्रजातियों को अलग अलग नाम से पहचाना जाता है, जैसे कि  गुच्छे दार  हिरण, परती हिरण, फारसी हिरण, रूसी हिरण, सांभर, लाल हिरण,  थोरोल्ड का हिरण, सिखा हिरण, भारतीय डॉग हिरण, चितालू हिरण, अमेरिकी लाल  ब्रॉकेट, तरुका हिरण, छोटी हिरण, यह सभी हिरणों की कुछ विशेष प्रजातियां हैं और इनके अंग्रेजी में नाम से अलग-अलग होते हैं।

हिरण का इतिहास | हिरण धरती पर कब आया?

मित्रों, हिरण  खुर वाले स्तनधारी जीव होते हैं। यह Cervidae  परिवार के सदस्य हैं। हिरण आमतौर पर कई प्रजातियों में भी पाए जाते हैं, जिसमें पानी का हिरण, बारहसिंघा, दो सींग वाले, सिका हिरण, बिना सींग  वाले हिरण। आदि पाए जाते हैं।

हिरण को हिंदी में  मृग कहा जाता है, और भारत में आम तौर पर कस्तूरी मृग पाए जाते हैं। इन्हें   मोस्किडे  के नाम से जाना जाता है। यह हिरण जुगाली कर कर खा सकते हैं, यानी कि आमतौर पर जो भी खाते हैं उन्हें साबूत ही निगल सकते हैं।

इसके पश्चात आराम से बैठकर जो भी खाया हुआ है उसे वापस मुंह में निकाल कर, खा कर, वापस निगल सकते हैं। ऐसा करने की कला गाय और बकरियों में पाई जाती है। ऐसा माना जाता है कि हिरण आमतौर पर एक पुराना स्तनधारी जीव है जिसकी उत्पत्ति धरती पर  दस लाख साल से भी पहले हुई है

हिरण के कितने दांत होते हैं? | Hiran ke kitne dant hote hain

मित्रों, आमतौर पर एक शाकाहारी हिरण के 32 दांत होते हैं। लेकिन एक मांसाहारी हिरण के 34 दांत होते हैं। लेकिन सभी हिरण के साथ वनस्पति का भोजन करने के लिए बिल्कुल सही होते हैं, और कई हिरणों के गालों पर अर्धचंद्राकार लकीरें भी पाई जाती हैं।

ऐसे हिरण आमतौर पर शाकाहारी हिरण होते हैं और जुगाली करने वाले हिरण होते है। हिरन के दांत मूल रूप से केवल शाकाहारी भोजन खाने के लिए बनाए गए हैं, लेकिन इनमें से कुछ के जबड़े हड्डियों तक को तोड़ सकते हैं।

हिरन के कितने सींग होते हैं? | hiran ke kitne singh hote hain

आमतौर पर हिरणों के दो सिंग होते हैं, जल हिरण के सींग नहीं होते बाकी सभी के सींग होते हैं। नर हिरण के सींग मादा हिरण के सींग की तुलना में ज्यादा बड़े और शक्तिशाली होते हैं। कुछ हिरणों के बड़े और खूबसूरत सींग होते हैं, लेकिन जो हिरण एशिया में पाए जाते हैं उनके सिंह कुछ इस प्रकार होते हैं, मानो उन्हें लड़ने के लिए बनाया गया हो।

हिरण को कौन सी बीमारी होती है? | hiran ke kon se bimari hote hai

हिरण को आमतौर पर गोजातीय तपेदिक की बीमारी होती है। यह बीमारी सभी प्रकार से इलाज करने योग्य है। लेकिन यदि इसका इलाज समय पर ना मिले तो हिरण बड़ी संख्या में मर सकते हैं। एक बार एक पागल व्यक्ति ने एक अभयारण्य में कई हिरणों की जान केवल इस बीमारी के माध्यम से ले ली थी।

क्योंकि यह बीमारी आमतौर पर अपने असर तब तक नहीं दिखाता जब तक बीमारी  अपने विकराल रूप में ना आ जाए।  इस बीमारी को पकड़ पाना केवल उन्हीं लोगों के लिए संभव है जो  हिरणों के साथ ज्यादा समय व्यतीत करते हैं।

हिरण क्या खाता है? | hiran kya khata hai

हिरण घास, सब्जियां, झाड़ियां, पेड़ों के पत्ते यह सब खाते हैं। लेकिन इसके अलावा पेड़ों पर लगे हुए लारवा, दीमक, कवक इतिहास खाते हैं इन सबके अलावा जो भोजन आसानी से पच जाता है।

जैसे कि पाचन योग्य पत्तियां, बड़े घास के पत्ते, नरम टहनियां, ताजी खास, लाइकेन यह सभी हिरण आसानी से खा सकता है। हिरण आमतौर पर सूरज की धूप में घूमता है इसलिए उसके शरीर में आमतौर पर कई प्रकार के खनिज प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

भारतीय संस्कृति में हिरण का महत्व

भारत में सैकड़ों धर्म एक साथ रहते हैं। इसमें से बिश्नोई समाज के लिए हिरण को देखना हिरण की पूजा करना इनके धर्म में काफी  जरूरी है। आज भी कई क्षेत्रों में बिश्नोई समाज के लोग हिरण की पूजा करते हुए नजर आ सकते हैं, और लोगों का मानना है कि यदि हिरण के खेतों में पढ़ते हैं तो इससे भूमि सोना उगलती है।

भारत में हिरण अत्यंत ही महत्वपूर्ण है और न केवल एक बिश्नोई समाज बल्कि भारत में सभी भारतीय हिरणों की रक्षा हेतु नए नए कार्य करते रहते हैं, लेकिन फिर भी हिरणों के शिकार बंद नहीं होते, जिसकी वजह से आज के समय हिरणों की संख्या काफी कम हो गई है।

निष्कर्ष

आज के लिए हमने आपको बताया कि हिरण का इतिहास क्या है? (hiran ko english mein kya kehte hain?) इसके अलावा हिरण से संबंधित लगभग सभी मुद्दों पर हमने आपको पूरी जानकारी दी है।

हम आशा करते हैं कि आज का यह लेख पढ़ने के पश्चात hiran ko kya bolte hain english mein? यह जानने के लिए आपको किसी अन्य लेख को पढ़ने की आवश्यकता नहीं होगी। यदि यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो कृपया इस लेख को ज्यादा स ज्यादा शेयर करें। अगर आपके मन मे कोई सवाल है जो आप हमसे पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

सबसे बड़ा हिरण कौन सा है?

सांभर (रूसा यूनीकलर) दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया में पाया जाने वाला एक बड़ा हिरण है।

हिरण की नाभि में से क्या निकलता है?

अपनी आकर्षक सुंदरता के साथ-साथ यह जीव मुख्य रूप से नाभि से निकलने वाली सुगंध के लिए जाना जाता है, जो इस मृग की सबसे बड़ी विशेषता है। इस मृग की नाभि में एक गाढ़ा द्रव (कस्तूरी) होता है जिसमें सुखद सुगंध की धारा बहती है। कस्तूरी केवल नर मृग में पाई जाती है।

हिरण का भोजन क्या है?

हिरण घास, हरी पत्तियों आदि को भोजन के रूप में खाते हैं और यह पूरी तरह से शाकाहारी जीव है।

Leave a comment