कबूतर (Kabutar) को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

कबूतर (Kabutar) को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

दोस्तों, कबूतर एक ऐसा पंछी है जो आमतौर पर हमारे घरों के आसपास, जंगलों में, पहाड़ों पर या अन्य क्षेत्रों में आसानी से देखने को मिल जाता है। कबूतर लाखो वर्ष पूर्व से पृथ्वी पर उपस्थित है। भारतीय संस्कृति के संदर्भ में देखा जाए तो कबूतर का एक अत्यंत ही महत्वपूर्ण योगदान है। क्या आप जानते हैं कि कबूतर का भारतीय संस्कृति में क्या योगदान है?

यदि आप नहीं जानते तो कोई बात नहीं क्योंकि आज के लेख में हम आपको कबूतर के बारे में सारी जानकारी देने का प्रयास करेंगे। साथ ही आप को बताएंगे कि कबूतर को इंग्लिश में क्या कहते हैं, इसके अलावा कबूतर से संबंधित मुहावरे कौन से हैं, इन सब के बारे में आज हम आपको विस्तार से जानकारी देंगे। तो चलिए शुरू करते हैं:-

कबूतर क्या है? | kabutar kya hai

मित्रों, कबूतर जिसे आमतौर पर घरेलू कबूतर के नाम से और अपनी अलग गी गुटर-गू की आवाज से जाना जाता है, यह पृथ्वी पर 5000 साल पहले से लोगों के पालतू बनने का काम करते आ रहा है। लोग आमतौर पर कबूतर को पालतू बना लेते हैं, और कबूतर भी लोगों के मध्य एकदम घुलमिल जाते हैं।

यह एक पंछी होता है जो कि वजन में काफी हल्का होता है। यह पक्षी मानव इतिहास में हर समय सकारात्मक की भूमिका निभाते आ रहा है। कई बार तो यह मानव जीवन को बचाने में भी योगदान देता है।

इसी कारण कबूतरों को कई बार विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। कई जगह कबूतर हिंसात्मक गतिविधियों में लिप्त रहते हैं। जंगली कबूतर आमतौर पर आक्रामक माने जाते हैं। लेकिन जो कबूतर आबादी के बीच में रहते हैं वे काफी सकारात्मक पंछी होते हैं।

कई जगह कबूतरों का शिकार भी किया जाता है यह गुटर गू की आवाज निकालते हैं, और इनकी आवाज से इन्हें आंखें बंद करके भी पहचाना जा सकता है। इनकी कई प्रजातियां आज के समय विलुप्ती की कगार पर है कबूतरों में श्वेत कबूतर कबूतरों का राजा माना जाता है।

कबूतर को इंग्लिश में क्या कहते हैं? | कबूतर का वैज्ञानिक नाम क्या है?

kabutar ko english me kya kahte hai

मित्रों कबूतर को अंग्रेजी में पिजन (Pigeon) के नाम से जाना जाता है। कबूतर को इंग्लिश में पिजन कहते हैं। इसके अलावा कबूतर का वैज्ञानिक नाम (scientific name) Columbia Livia Domestica है।

कबूतर का भोजन क्या है? | kabutar ka bhojan kya hai

कबूतर आमतौर पर सामान्य भोजन ग्रहण करता है, जिसमें मक्के के दाने, बाजरी के दाने, गेहूं के दाने इत्यादि शामिल होते हैं। कुछ कबूतर मांसाहारी प्रवृत्ति के माने जाते हैं। कबूतर की चोंच काफी छोटी होती है इसी लिए इन्हें बीजों वाले खाने दिए जाते है क्योंकि यह ऐसे खाने खा सकते है।

यह ऐसा  भिजन भी खाते है जिनमे पोषक तत्वों की होती हैं। यह आमतौर पर कैल्शियम, विटामिन और पोषक तत्व से भरपूर भोजन का ग्रहण भी कर लेते हैं। लेकिन जो जंगली कबूतर होते हैं वह आमतौर पर कीट पतंगे, मकोड़े, कीड़े, इन सभी का भोजन करते हैं।

कबूतर को क्या खिलाना चाहिए

ऐसे कई खाद्य पदार्थ हैं जो कबूतरों को खिलाए जा सकते हैं; आइए उनमें से कुछ को देखें। ओट्स ओट्स रोल्ड ओट्स के साथ ओट्स चूंकि ओट्स मानव उपभोग के लिए उपयुक्त हैं, आम तौर पर सबसे प्रचलित उपयोगों में से एक पशु आहार के रूप में है। जई का नियमित सेवन रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए पोषक तत्वों से भरपूर आहार है। कबूतर उसे मटर बहुत पसंद है। यदि आप मूल्यवान कबूतर खाना नहीं खरीद सकते हैं, यदि ऐसा है, तो आप इसे प्रदान करना बंद कर सकते हैं। इसमें 22-26 प्रतिशत प्रोटीन और 50-52 प्रतिशत नाइट्रेट होता है। इसमें 0.5 से 1.0 से 2 प्रतिशत फैट और 4 से 5 प्रतिशत सेल्युलोज होता है।

इसकी पीढ़ी में यूरोपीय, दक्षिण अमेरिका, यूरेशिया और इथियोपिया की प्रजातियां शामिल हैं। यह कबूतर का उत्तम आहार है, लेकिन इसे केवल 15 कबूतरों को ही खिलाना चाहिए। प्रतिशत से कम होना चाहिए। यदि इसे बड़ी मात्रा में दिया जाए तो यह कबूतरों में पाचन संबंधी कठिनाइयों को प्रेरित कर सकता है। कबूतर ज्यादातर समय उन्हीं खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं जो हम करते हैं। दूसरी ओर, कीड़े खा सकते हैं। हालाँकि, यह शायद ही कभी होता है। कबूतरों के होठों में सिर्फ 40 स्वाद कोशिकाएं होती हैं।

कबूतर की कितनी नस्ले मौजूद है?

वर्तमान समय में कबूतर की कुल मिलाकर 175 से भी ज्यादा प्रजातियां मौजूद है। जिनमें शाकाहारी, मांसाहारी, और सर्वाहारी कबूतर शामिल है।

कबूतर की विशेषता

कबूतर की अनेक विशेषताएं कुछ इस प्रकार है –

  • कबूतर आमतौर पर बुद्धिमान पंछी होते हैं।
  • यह दर्पण की परीक्षा पास कर लेते हैं, क्योंकि आमतौर पर एक पक्षी को यदि दर्पण दिखाया जाए तो वह अपनी परछाई को मारने लगता है। लेकिन कबूतर ऐसा नहीं करता है।
  • इन में अपने पहचान की कला होती है।
  • यह मानव वर्णमाला के अक्षरों की पहचान सकते हैं, और तस्वीरों के मध्य अंतर बता सकते हैं।
  • कबूतर अत्यधिक मिलनसार पक्षी होता है।
  • इन्हें आम तौर पर 20-25 पक्षियों के झुंड में देखा जा सकता है।
  • कबूतर का दिमाग आमतौर पर एक चुंबकीय कंपास की तरह काम करता है।
  • प्रजनन की मामले में कबूतर कभी भी बुड्ढा नहीं हो सकता है।
  • कबूतर का वीर्य अत्यंत ही महत्वपूर्ण और कीमती होता है।
  • कबूतर एक ऐसा पक्षी है जो हिंदू और मुस्लिम तथा सिखों के मध्य बांटा नहीं गया है, और तीनों ही कबूतर को एक साथ खाना खिलाते हैं।
  • कबूतर हवा में 77 मील प्रति घंटे की रफ्तार से हो सकता है और तकरीबन 6000 फीट की ऊंचाई पर उड़ने में सक्षम है।

कबूतर से संबंधित मुहावरे

कबूतर से संबंधित कई प्रकार के मुहावरे आम बोलचाल की भाषा में इस्तेमाल किए जाते हैं, जैसे की कबूतर बाजी करना, कबूतर पालना, कबूतर उड़ाना, कबूतर मारना, कबूतर फ़साना, कबूतर दिखना यह सभी कुछ ऐसे मुहावरे हैं जो आमतौर पर कबूतर से संबंधित होते हैं, लेकिन का किसी भी प्रकार से कबूतर पक्षी से संबंध नहीं होता है। बल्कि इनका दिशा निर्देश जीव इंसानों की तरफ होता है।

कबूतर का भारतीय संस्कृति में योगदान

प्राचीन समय से ही कबूतर का इस्तेमाल एक मित्र तथा एक संदेश वाहक के तौर पर किया जाता है। कबूतर एक ऐसा पक्षी है जो सभी पक्षियों में से सबसे ज्यादा मिलनसार है।

कबूतर के पश्चात गरुड़ ही एक ऐसा पक्षी है, जो मनुष्य के साथ मिलनसार है। बाकी पक्षी भी मनुष्य के साथ मिलनसार हो सकते हैं लेकिन आमतौर पर उन्हें मनुष्य से डरते हुए ही देखा गया है।

कबूतर भारतीय संस्कृति में अपना महत्वपूर्ण योगदान देते हैं। क्योंकि यह है भारतीय संस्कृति में श्रेष्ठ मित्र की भूमिका का वर्णन करते हैं। ऐसा भी कहा जाता है कि कबूतर मनुष्य का बहुत अच्छा मित्र होता है। साथ ही साथ तकरीबन 5000 वर्षों से कबूतर का इस्तेमाल संदेशवाहक के तौर पर भी किया जा रहा है।

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने आपको कबूतर के बारे में सारी जानकारी देते हुए हैं बताया कि कबूतर को इंग्लिश में क्या कहते हैं। साथ ही साथ हमने आपको कबूतर से संबंधित अन्य विशेष बातें भी बताई है।

हम आशा करते हैं कि आपको यह लेख पढ़ने के पश्चात कबूतर को इंग्लिश में क्या कहते हैं, यह जानने के लिए अन्य किसी लेख को पढ़ने की आवश्यकता नहीं होगी।

यदि आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई सवाल है जो आप हमसे पूछना चाहते हैं, तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

FAQ

कबूतर के नाम बताइए?

भारत में कबूतरों की 34 से अधिक किस्में पाई जाती हैं। इसकी सामान्य प्रजातियाँ इस प्रकार हैं, नीला, रॉक कबूतर, हरा शाही कबूतर, जंगली और हरा कबूतर।

घर में कबूतर अंडा देने से क्या होता है?

लोगों का मानना है कि घर में कबूतर का घोंसला बनाना दुर्भाग्य का संकेत है। कुछ मान्यताओं के अनुसार कबूतर को देवी लक्ष्मी का भक्त माना जाता है। इसे देखते हुए कई लोग कबूतर का घर में प्रवेश करना शुभ मानते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अगर कबूतर घर में घोंसला बनाता है तो इससे परिवार में सुख-समृद्धि आती है।

कबूतर को सबसे ज्यादा क्या पसंद है?

कबूतरों को खाना खिलाना शुभ माना जाता है। लेकिन इन्हें खिलाते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

कबूतर के गुण?

कबूतर शांत प्रकृति का एक छोटा पक्षी है, यह सुंदर और आकर्षक होता है। कबूतर का वैज्ञानिक नाम कोलंबिया लिविया डोमेस्टिका है। कबूतर कई साल पहले से पालतू पक्षी के रूप में पाए जाते रहे हैं।