राष्ट्रीय संघ किसे कहते हैं? स्थापना, उद्देश्य और सदस्य

राष्ट्रीय संघ किसे कहते हैं? स्थापना, उद्देश्य और सदस्य

यदि इतिहास के पन्नों को पलट कर देखा जाए तो पाएंगे कि विश्व भर में समय-समय पर युद्ध हुए हैं और इसके बाद फिर समझौते और संधियां भी हुई है। यह प्रक्रिया निरंतर चलती आ रही है। विश्व भर मे शांति बनी रहे इसके लिए नेपोलियन संघ, राष्ट्र संघ, संयुक्त राष्ट्र संघ जैसी संस्थाएं समय-समय पर बनाई गई।

आज के इस लेख में हम राष्ट्रीय संघ के चार प्रमुख उद्देश्य क्या थे इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानने वाले हैं। तो आप हमारे साथ इस लेख के अंत तक जरूर बने रहे। 

राष्ट्रीय संघ किसे कहते हैं? | What is National Union called?

सन्  1914 से सन 1918 तक हुए प्रथम विश्वयुद्ध में दुनिया भर के लगभग सभी देशों को जूझना पड़ा था। युद्ध के कारण अपार जन और धन का विनाश हुआ था।

यह नुकसान भविष्य में ना हो इसके लिए विश्व स्तर पर एक ऐसी अंतरराष्ट्रीय संस्था को बनाने का अनुभव किया गया, जो देशों के बीच किसी भी कारण से खड़े होने वाले विवादों को शांति से सुलझा सके और इसी अवधारणा का परिणाम राष्ट्र संघ रहा।

राष्ट्रीय संघ एक ऐसी अंतरराष्ट्रीय संस्था है जो विश्व स्तर पर देशों के बीच हुए विवाद या तनाव को शांति वार्ता से सुलझाने में मदद करती है।

राष्ट्रीय संघ की स्थापना कब हुई? | When was the National Union established?

rashtra sangh ki sthapna kab hui

विल्सन की अध्यक्षता मे, पेरिस मे होने वाले शांति सम्मेलन में, राष्ट्र संघ के संविधान को तैयार करने के लिए 19 members की एक आयोग की स्थापना की गई थी।

इस आयोग ने 14 फरवरी 1919 को एक प्रस्ताव सम्मेलन के समक्ष रखा। इस प्रस्ताव मे 28 अप्रैल 1919 को कुछ संशोधन किए गए और इसी के साथ इसे स्वीकृति भी प्रदान की गई। इस शांति संधि में जो पहले 26 धाराए हैं, उनमें राष्ट्र संघ से संबंधित व्यवस्था को भी वर्णित किया गया है।

राष्ट्रीय संघ की स्थापना किसने की? | Who founded the National Union?

राष्ट्रीय संघ के जनक के रूप में महाकश्यप को जाना जाता है। वह पहले ऐसे व्यक्ति थे जो भगवान बुद्ध के द्वारा दी गई शिक्षाएं और सूत्रों का सीधा प्रचार करते थे।

राष्ट्र संघ की स्थापना क्यों की गई? | Why was the League of Nations established?

राष्ट्रीय संघ की स्थापना एक अंतरराष्ट्रीय संगठन के रूप में विश्व भर में अमन शांति को बनाए रखने के लिए की गई थी। यह संघ दुनिया भर के सभी देशों को अपने संगठन का सदस्य बनाना चाहता था, ताकि भविष्य में कभी भी कोई भी विवाद हो, तो उस बल अर्थात युद्ध की बजाय बातचीत के द्वारा शांति वार्ता से सुलझाया जा सके।

देशों के बीच शांति को बनाए रखने के लिए तीन बार विश्व स्तर पर संस्थाएं बन चुकी हैं। नेपोलियन युद्ध के बाद पवित्र संघ की स्थापना, प्रथम विश्वयुद्ध के बाद राष्ट्र संघ की स्थापना और द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना का होना इसका साक्षात उदाहरण है।

राष्ट्रीय संघ के चार प्रमुख उद्देश्य क्या थे? | What were the four main objectives of the National Federation?

राष्ट्रीय संघ के मुख्य उद्देश्य निबंध थे:-

  1. राष्ट्रीय संघ विश्व सतर पर राष्ट्र के लिए मानसिक और आर्थिक सहयोग को प्रोत्साहन देना चाहता था जिससे कि राष्ट्र में भी विकास हो सके और राष्ट्र सुखी और समृद्ध बन सके।
  2. इसका एक मुख्य उद्देश्य यह था कि सम्मान और न्याय के आधार पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इन देशों के संबंध को और मजबूत बनाना और विवादों की वजह से उनके बीच होने वाले युद्ध को टालना था।
  3. पेरिस शांति सम्मेलन के द्वारा बनाई गई व्यवस्था को कायम रखना इसका एक उदेश्य था।
  4. शांतिपूर्ण तरीकों से विश्व स्तर पर देशों के बीच हुए विवाद को सुलझाना

राष्ट्रीय संघ के कितने सदस्य है? | How many members does the National Association have?

सन 1978 में राष्ट्रीय संघ के सदस्यों की संख्या 62 थी परंतु अप्रैल 1996 तक आते-आते यह घटकर 43 रह गई थी जिसमें से भी केवल 34 राज्यों के प्रतिनिधियों ने इनकी बैठक में भाग लिया था।

यदि वर्तमान समय की बात की जाए तो विश्व के लगभग सभी अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त 193 राष्ट्र संघ के सदस्य हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों, आज के इस लेख में हमने जाना कि राष्ट्रीय संघ के चार प्रमुख उद्देश्य क्या है। आशा करते हैं कि राष्ट्रीय संघ से संबंधित हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको पसंद आई होगी।

यदि आप अन्य किसी विषय की जानकारी चाहते हैं या फिर आप की तरफ से कोई सुझाव या प्रश्न है तो हमें कमेंट सेक्शन में लिखकर जरूर बताएं।

FAQ

राष्ट्र संघ की स्थापना कब हुई थी और क्या उद्देश्य था?

इस प्रकार, राष्ट्र संघ पहला अंतर्राष्ट्रीय संगठन था, जो प्रथम विश्व युद्ध से उत्पन्न परिस्थितियों का एक उत्पाद था और इसका उद्देश्य स्थायी विश्व शांति स्थापित करना था। 1 सितंबर 1918 को, राष्ट्रपति विल्सन ने एक स्पष्ट घोषणा की कि राष्ट्र संघ का कानून शांति समझौते का ही एक हिस्सा होना चाहिए।

राष्ट्र संघ कब बना?

संविधान का मसौदा राष्ट्र संघ आयोग द्वारा 14 जनवरी, 1919 को शांति सम्मेलन के समक्ष रखा गया था और इसके संशोधित रूप को 28 अप्रैल, 1919 को ‘शांति सम्मेलन’ में स्वीकार किया गया था। 10 जनवरी, 1920 को ‘वाचा’ (संविधान) राष्ट्र संघ का लागू किया गया और कानूनी रूप से राष्ट्र संघ का जन्म हुआ।

राष्ट्र संघ में कितने सदस्य थे?

लीग ऑफ नेशंस पेरिस शांति सम्मेलन के परिणामस्वरूप संयुक्त राष्ट्र संगठन के अग्रदूत के रूप में गठित एक अंतर सरकारी संगठन था। 28 सितंबर 1934 से 23 फरवरी 1935 तक इसके सबसे बड़े विस्तार के समय, इसमें 58 सदस्य थे।

राष्ट्रीय संघ की स्थापना कब हुई?

सन 1920 में

राष्ट्रीय संघ की स्थापना का उद्देश्य क्या था?

विश्व स्तर पर देशों के बीच होने वाले विवाद को शांतिपूर्वक सुलझाना

राष्ट्रीय संघ की स्थापना किसने की?

इसकी स्थापना अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति विल्सन की अध्यक्षता में हुई थी।

राष्ट्रीय संघ के कितने सदस्य हैं?

193 राष्ट्र

राष्ट्रीय संघ के कितने अंग थे?

राष्ट्र संघ के पाँच अंग थे- सभा परिषद, सचिवालय, अंतरराष्ट्रीय श्रम संघ, अंतरराष्ट्रीय न्याय का स्थाई न्यायालय।

Leave a comment