मानक समय से आप क्या समझते हैं?

दोस्तों वर्तमान समय में आपके हाथ में जो घड़ी है, वह आपको आपके स्थान का सर्वथा अनुकूल समय बताती है। यह समय जानने के लिए आप अपने मोबाइल, लैपटॉप, टेबलेट, टीवी किसी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन हम आपको बता दें कि यह समय मानक समय होता है (What is the standard time?)। यानि कि स्टैण्डर्ड टाइम के अनुसार इस समय को आयोजित किया जाता है।

आपको यह जानकर हैरानी नहीं होनी चाहिए कि जिस समय आप के सर के उपर सूरज है और आप दिन का समय देख रहे हैं, दुनिया में कई ऐसे देश है जो कि उसी समय रात देख रहे हैं। जहां पर आप गर्मी में समय व्यतीत कर रहे हैं, पृथ्वी पर कई ऐसे स्थान है जो उसी समय अत्यंत कड़ाके की सर्दी महसूस कर रहे हैं।

ऐसी परिस्थितियों के लिए विशेष मानक समय का होना आवश्यक है। अब आप यह सोच रहे होंगे कि मानक समय का इस से क्या लेना देना है? या मानक समय क्या होता है? यदि आपको नहीं पता कि मानक समय क्या होता है, तो कोई बात नहीं क्योंकि आज के लेख में हम आपको मानक समय के बारे में सारी जानकारी उपलब्ध करवाएंगे।

मानक समय क्या होता है?

मानक समय वह विशेष समय होता है या स्टैंडर्ड समय होता है जो किसी भी देश या विस्तृत भूभाग के लोगों के व्यवहार के लिए स्वीकार किया जाता है। यह मानक समय किसी भी विभाग के लोगों के दिनचर्या के समय को निर्धारित करता है, और इसे आमतौर पर स्थानीय समय के नाम से भी जाना जाता है।

मानक समय अलग-अलग देशों के सरकारी समय आंकड़ों के अनुसार निर्धारित किए जाते हैं। वर्तमान समय में भारत के मानक समय हेतु भारतीय मानक समय का निर्धारण किया गया है। इसका निर्धारण सन 1947 में भारत सरकार के द्वारा किया गया था। हालांकि इसके पश्चात भी भारत में कोलकाता और मुंबई सन 1955 तक अपने स्थानीय समय को बनाकर रखे हुए थे भारत का मानक समय उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले से निर्धारित होता है, जिसे UTC 5:30 के तौर पर देखा जाता है।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि सन 1962 का भारत चीन युद्ध और इसके अलावा 1964 तथा 1971 में हुए भारत पाकिस्तान के युद्ध के समय भी डे लाइट सेविंग टाइम का इस्तेमाल किया गया था।

समय के मायने क्या होते हैं?

जैसा कि हम जानते हैं कि पृथ्वी अपना एक पूरा चक्कर 24 घंटे में लगाती है, और इस समयकाल में पृथ्वी के आगे भाग पर प्रकाश रहता है, और आधे भाग पर अंधेरा रहता है, यानी कि हर 12 घंटे में एक जगह पर दिन हो रहा होता है और दूसरी जगह पर रात हो रहा होता है। इसलिए यह आवश्यक है कि स्थानीय समय के हिसाब से प्रत्येक व्यक्ति अपनी दिनचर्या का पालन करें।

अलग-अलग समय मापदंडों को समझने से अच्छा है कि कोई व्यक्ति एक स्थानीय समय मानक का इस्तेमाल करते हुए आसानी से समय मांगा कितना उपयोग करें। समय के मापन के लिए समय का मानक इस्तेमाल किया जाता है। समय का मानक यह समय के मानक समय के व्यतीत होने की गति को मापने का काम करता है, या फिर समय के प्रवाह को बिंदुओं में मापता है। आधुनिक समय में यह तरीका समय का पता लगाने और समय की गणना करने का एक सर्वथा उचित तरीका है।

Also read:

साइमन कमीशन भारत कब आया  कैबिनेट मिशन भारत कब आया था?
भाबर क्या है? और भाभर की विशेषताएं क्या है? लोथल किस नदी के किनारे स्थित है?
काला नमक और सेंधा नमक के बीच में क्या अंतर है? आयोडीन की कमी से कौन सा रोग होता है?

निष्कर्ष

आशा है या आर्टिकल आपको बहुत पसंद आया हुआ इस आर्टिकल में हमने बताया (मानक समय से आप क्या समझते हैं बताइए | manak samay se aap kya samajhte hain) के बारे मे संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगे तो आप अपने दोस्तों के साथ भी Share कर सकते हैं अगर आपको कोई भी Question हो तो आप हमें Comment कर सकते हैं हम आपका जवाब देने की कोशिश करेंगे।

HomepageClick Hear