कुतुब मीनार की लंबाई कितनी कितनी है?

कुतुब मीनार की लंबाई कितनी कितनी है?

नमस्कार दोस्तों, कुतुबमीनार का नाम दिल्ली में स्थित प्रमुख पर्यटन स्थलों की सूची के अंतर्गत आता है। यह दिल्ली के अंदर स्थित एक काफी महत्वपूर्ण तथा काफी प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है, जिसको देखने के लिए लाखों लोग प्रत्येक वर्ष अलग-अलग जगह से आते हैं। आपने कुतुबमीनार के बारे में अक्सर यही सुना होगा कि इसकी लंबाई काफी ज्यादा है, तथा यह काफी ऊंचा है। दोस्तों क्या आप जानते हैं कि कुतुब मीनार की लंबाई कितनी है, (kutub minar ki lambai kitni hai) या फिर यह कुतुबमीनार कितना ऊंचा है, यदि आपको इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है, तो हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से इसके बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

आज के इस आर्टिकल के अंतर्गत हम आपको बताने वाले हैं, कि कुतुब मीनार की लंबाई कितनी है, इसके अलावा कुतुब मीनार की लंबाई तथा कुतुब मीनार से जुड़ी लगभग जानकारी हम आपको इस पोस्ट के अंतर्गत देने वाले है।

कुतुब मीनार की लंबाई कितनी कितनी है? (qutub minar ki lambai kitni hai)

दोस्तों कुतुब मीनार दिल्ली के अंतर्गत स्थिति स्तंभ है या फिर आप इसको मीनार भी कह सकते हैं। आपने अक्सर सुना होगा कि यह काफी ऊंचा है, तो आपके जानकारी के लिए मैं बता दूं कि कुतुब मीनार की कुल ऊंचाई 72.5 मीटर है, यदि इस ऊंचाई की फीट के अंतर्गत बात की जाए, तो कुतुब मीनार की कुल ऊंचाई 237 फीट है। इस कुतुब मीनार के अंतर्गत 379 सीढ़ियों का इस्तेमाल किया गया है।

कुतुब मीनार की लंबाई कितनी है, Kutub Minar ki Lambai Kitni Hai

कुतुब मीनार का निर्माण तेरहवीं शताब्दी के अंतर्गत किया गया था, सनी 1193 के अंतर्गत कुतुब मीनार के निर्माता कुतुबुद्दीन ऐबक के द्वारा कुतुब मीनार का निर्माण कार्य शुरू किया गया था।  कुतुबुद्दीन ऐबक के द्वारा इस कुटुम निर्माण की सिर्फ दो मंजिलों का निर्माण ही किया गया था। उसके बाद से 1211 से लेकर सन 1236 के बीच कुतुब मीनार की तीसरी तथा चौथी मंजिल का निर्माण समसुदीन इल्तुमिश के द्वारा किया गया था। और उसके बाद अंत में फिरोजशाह तुगलक के द्वारा किस कुतुब मीनार की पांचवी मंजिल का निर्माण भी करवाया गया था।

कुतुब मीनार के निर्माण में काफी समय लगा था, कुतुबुद्दीन ऐबक के द्वारा इसका निर्माण कार्य सन 1193 में शुरू किया गया था, उसके बाद से 1236 तक इसकी चौथी मंजिल का निर्माण कार्य पूरा हुआ था और अंत में कुतुब मीनार की पांचवी मंजिल का निर्माण सुल्तान फिरोज़ शाह तुगलक के द्वारा करवाया गया था। तो ऐसे में कहा जा सकता है कि कुतुब मीनार के निर्माण कार्य में लगभग 40 से 50 वर्ष का समय लगा था।

कुतुब मीनार का निर्माण अफगानिस्तान की जाम मीनार को देखकर किया गया था, और इसके नाम रखने के पीछे दो कारण है। पहला कारण यह है कि इसके निर्माण की शुरुआत कुतुबुद्दीन ऐबक के द्वारा की गई थी, इसके अलावा ही यह एक स्तंभ के रूप में है, या फिर यह एक मीनार रूप में है तो इसका नाम कुतुबमीनार रखा गया था।

Also read: भारत का राष्ट्रीय खेल कौन सा है?

आज आपने क्या सीखा

तो आज के इस आर्टिकल के अंतर्गत आपने जाना की कुतुब मीनार की कुल लंबाई कितनी है, इसके अलावा हमने आपको इस पोस्ट के अंतर्गत कुतुब मीनार से जुड़ी लगभग हर जानकारी को शेयर करने का प्रयास किया है। हमें उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई है, तो आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया सीखने को मिला है। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई, तो इसे सोशल मीडिया के माध्यम से आगे शेयर जरूर करें। इसके अलावा इस विषय के बारे में आप अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं।

FAQ

कुतुब मीनार कहां पर स्थित है?

यह कुतुबमीनार भारत की राजधानी दिल्ली के अंतर्गत स्थित है, और इसका नाम दिल्ली के प्रमुख पर्यटन स्थल की सूची में आता है।

कुतुब मीनार का निर्माण किसके द्वारा किया गया था?

दोस्तों कितने मीनार के निर्माण के कार्य की शुरुआत kutubuddin ebak के द्वारा की गई थी।

कुतुब मीनार की कुल लंबाई कितनी है?

दोस्तों कुतुब मीनार की कुल लंबाई 72.5 मीटर है। अगर इसकी लंबाई फुट के अंतर्गत बात की जाए तो कुतुब मीनार की कुल लंबाई 237 फुट है।

Leave a comment