किस विटामिन की कमी से नींद ज्यादा आती है?

किस विटामिन की कमी से नींद ज्यादा आती है?

नमस्कार दोस्तो, आपको विटामिन के बारे में तो जरूर जानकारी होगी, जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं, कि हमारे शरीर को अलग-अलग प्रकार की विटामिन की आवश्यकता होती है, तथा हर एक विटामिन की कमजोरी से हमारे शरीर के अंतर्गत अलग-अलग लक्षण देखने को मिलते हैं। दोस्तों क्या आप जानते हैं कि किस विटामिन की कमी से नींद ज्यादा आती है (kis vitamin ki kami se nind nahin aati)। यदि आपको इस विषय के बारे में कोई जानकारी नहीं है, तथा इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इसके बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताने वाले हैं, कि किस विटामिन की कमी से नींद ज्यादा आती है, इसके अलावा हम आपको इस विषय से जुड़ी हर एक जानकारी इस पोस्ट में देने वाले हैं।

किस विटामिन की कमी से नींद ज्यादा आती है?

अगर दोस्तों बात की जाएगी किस विटामिन की कमी से हमें नींद ज्यादा आती है तो विटामिन डी (Vitamin-D) की कमी से हमें नींद काफी ज्यादा आती है इसके पीछे का प्रमुख कारण यह है, कि यदि हमारी शरीर के अंतर्गत विटामिन डी की कमी हो जाती है, तो ऐसे में हमारे से जल्द काफी थका हुआ महसूस करता है, तथा हमारे शरीर के अंतर्गत एनर्जी काफी कम हो जाती है। और इसके फलस्वरूप हमें नींद काफी ज्यादा आने लगती है।

इससे बचने के लिए आपको अपने शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी उपलब्ध करवाना होता है, तथा विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत सुबह की सूरज की धूप होती है।

किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है?

अगर दोस्तों बात की जाएगी किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है तो आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि अक्सर की विटानिम बी 6 (Vitamin B6)  कमी से हमें नींद नही आती है, इसके पीछे का प्रमुख कारण यह है, कि यह विटामिन मानव शरीर के अंतर्गत सेरोटोनिन तथा मेलाटोनिन नामक हार्मोन के स्तर को बनाए रखता है, यदि इस विटामिन की हमारे शरीर के अंतर्गत कमी हो जाती है, तो उसके फल स्वरुप हमारे शरीर में सेराटोनिन तथा मेलाटोनिन हार्मोन की भी कमी हो जाती है, इसके फलस्वरूप हमें नींद नहीं आती है।

कोई भी व्यक्ति जब भी रात को सोने जाता है, या फिर सोना चाहता है, तो उसको एक अच्छी नींद प्राप्त करने के लिए सेरोटोनिन तथा मेलाटोनिन हार्मोन की जरूरत पड़ती है, और विटानिम बी 6 की कमी से हमारे शरीर के अंतर्गत इनकी मात्रा कम हो जाती है, और हमें नींद नहीं आती है।

विटामिन डी की पूर्ति कैसे करें?

शरीर में विटामिन डी की पूर्ति के लिए कई तरह के खाद्य पदार्थों का सेवन किया जा सकता है। आइए जानते हैं इसके बारे में:-

Deficiency of which vitamin causes excessive sleepiness

  • कॉड लिवर ऑयल
  • सैमन फिश
  • स्वोर्डफिश।
  • टूना मछली
  • संतरे का जूस
  • डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे- दूध, दही, पनीर, चीज
  • सोयाबींस इत्यादि।

शरीर में विटामिन बी12 की कमी कैसे करें पूरी?

  • सोयाबीन
  • डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे- दही, दूध, पनीर इत्यादि
  • ओट्स, दलिया
  • अंडे इत्यादि।

नींद ना आने के कुछ अन्य कारण

दोस्तों जरूरी नहीं है, कि हमें हर वक्त विटामिन बी सिक्स की कमी से ही नींद नहीं आती है, इसके अलावा भी कई अन्य कारण हो सकते हैं जिस कारण हमें नींद नहीं आती है, जो नीचे दिए गए है:-

  1. हर रोज अपने सोने के समय में बदलाव करना नींद ना आने का सबसे प्रमुख कारण माना जाता है, क्योंकि जब आप सोने के समय में बदलाव करते हैं, तो आपके दिमाग के अंतर्गत काफी डिस्टरबेंस पैदा होता है, जिस कारण आपको नींद नहीं आती है।
  2. बहुत से लोग दोपहर में सोते हैं, इस कारण उन्हें अक्सर रात के अंतर्गत नींद नहीं आती है, या फिर रात को मुझे बहुत देर तक नींद आती है। तो दोपहर के अंतर्गत सोना भी आपको रात को नींद ना आने का प्रमुख कारण हो सकता है।
  3. बहुत से लोग सोने से पहले अपना बहुत ज्यादा समय मोबाइल टीवी या लैपटॉप के ऊपर व्यतीत करते हैं, जिस कारण उनको नींद नहीं आती है, क्योंकि मोबाइल से निकलने वाली ग्रीन लाइट हमारी नींद को डायरेक्ट इफेक्ट करती है।
  4. किसी भी व्यक्ति के शरीर को प्रॉपर एक्सरसाइज तथा व्यायाम नहीं मिलना, उसको नींद ना आने का एक प्रमुख कारण हो सकता है।
  5. अनेक लोगों को धूम्रपान की वजह से नींद नहीं आती है क्योंकि धूम्रपान करने से उनके सर में तीव्र गति का दर्द होने लगता है, जिसके फलस्वरूप उनको कई बार नींद नहीं आती है।
  6. सोते वक्त ज्यादा शोर हो ना या फिर आपकी रूम के अंतर्गत अधिक लाइट होना भी आपकी नींद ना आने का एक प्रमुख कारण हो सकता है, तो इसी में आपको अपने रूम में ना के बराबर लाइट रखनी होती है।

तो दोस्तों यह कुछ बेसिक कारण होते हैं, जिनके कारण अलग-अलग लोगों को नींद नहीं आती है, इसके अलावा अलग-अलग प्रकार की बीमारियां भी हो सकती है, इसके अलावा अलग-अलग प्रकार के हार्मोन तथा अलग-अलग प्रकार की चीजों के अंतर्गत कमी होने के कारण भी हमें नींद नहीं आती है, जिन भी चीजों के बारे में आप डॉक्टर से अच्छी तरह सलाह ले सकते हैं।

निष्कर्ष

तो इस पोस्ट के अंतर्गत हमने आपको बताया कि किस विटामिन की कमी से नींद ज्यादा आती है, किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है (which vitamin deficiency causes sleepiness), इसके अलावा इस विषय से जुड़ी अन्य जानकारी अभी हमने आपके साथ शेयर की है। हमें उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई है, फिर तो आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया जानने को मिला है।

FAQ

ज्यादा नींद आने का क्या कारण है?

अत्यधिक नींद आने का सबसे आम कारण नींद की कमी और स्लीप एपनिया और अनिद्रा जैसे विकार हैं। अवसाद और अन्य मनोरोग संबंधी समस्याएं, कुछ दवाएं, और मस्तिष्क और शरीर को प्रभावित करने वाली चिकित्सा स्थितियां भी दिन के समय उनींदापन का कारण बन सकती हैं।

नींद के लिए कौन सा हार्मोन जिम्मेदार है?

कैफीन मेलाटोनिन नामक हार्मोन को देरी से रिलीज करता है. यह हार्मोन नींद लाने का काम करता है।

मुझे काम पर नींद क्यों आती है?

अत्यधिक नींद का कर्ज अत्यधिक दिन की नींद का सबसे आम कारण है, जिससे आपकी नौकरी जाने की संभावना बढ़ जाती है। अपनी नींद के कर्ज को पांच घंटे से कम रखना दिन के दौरान अपने बारे में अपनी बुद्धि बनाए रखने का सबसे अच्छा तरीका है।