छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं? | Chhattisgarh mein kitne jile hain

छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं? | Chhattisgarh mein kitne jile hain

दोस्तों, अधिकतर लोगों के मन में आता है कि उनके राज्य में कुल जिलों की संख्या कितनी है तक आज के इस लेख में हम बात करने वाले है कि chhattisgarh mein kitne jile hain. छत्तीसगढ़ पूर्व मध्य भारत में स्थित एक राज्य है। अगर आप भी छत्तीसगढ़ राज्य में के जिलों के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़ें। तो चलिए शुरू करते हैं –

छत्तीसगढ़ राज्य के बारे में (About Chhattisgarh)

छत्तीसगढ़ पूर्व मध्य भारत में स्थित एक राज्य है जो क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का 9वां सबसे बड़ा राज्य है। यह जनसंख्या के आधार पर भारत का 17वां सबसे बड़ा राज्य है। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर है। छत्तीसगढ़ का कुल क्षेत्रफल 135,192 वर्ग किलोमीटर है।

छत्तीसगढ़ की कुल जनसंख्या 3 करोड़ के करीब है। हिंदी छत्तीसगढ़ की अधिकारिक भाषा है इसके अलावा छत्तीसगढ़ी वहां की अन्य भाषा है। छत्तीसगढ़ में कुल 32 जिले हैं। छत्तीसगढ़ के चारों ओर उत्तर प्रदेश ,झारखंड ,तेलंगाना महाराष्ट्र, ओडीशा और मध्य प्रदेश आदि राज्य है।

छत्तीसगढ़ का निर्माण

छत्तीसगढ़ भारत का 26 वां राज्य है जिसे 1 नवंबर 2000 को एक अलग राज्य की उपाधि दी गई थी। छत्तीसगढ़ राज्य मध्य प्रदेश से अलग किया गया एक राज्य है।

छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं? (Chhattisgarh mein kitne jile hain)

छत्तीसगढ़ के जिलों की संख्या कुल 33 हैं। मध्य प्रदेश से विभाजन के समय छत्तीसगढ़ के कुल 16 जिले थे। लेकिन वर्तमान में जिलों की संख्या बढ़कर 33 हो चुकी है।

छत्तीसगढ़ के जिले हैं -धमतरी ,बालोद ,बिलासपुर ,दुर्ग ,बलौदा-बाजार, जांजगीर-चांपा ,बलरामपुर ,कांकेर ,कोरबा ,कबीरधाम ,बस्तर ,कोंडागांव, गरियाबंद ,कोरिया ,बेमेतरा ,महासमुंद ,बीजापुर ,मुंगेली, जसपुर, नारायणपुर, दंतेवाडा ,रायगढ़ ,रायपुर ,राजनांदगांव ,सुकुमा, सूरजपुर, सुरगुंजा, सारंगढ़-बिलायीगढ़ ,सक्ति ,मोहला-मानपुर-चौकी ,भरतपुर-महेंद्रगढ़-चिरमिरी ,गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, खेरागढ़-छुईखदान-गड़ई आदि।

छत्तीसगढ राज्य के जिलों का इतिहास (History Of Chhattisgarh Districts)

छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं? (Chhattisgarh mein kitne jile hain)

1847 से 1947 तक छत्तीसगढ़ ब्रिटिश के कब्जे में रहा और उस दौरान अंग्रेजों ने छत्तीसगढ़ में कई बदलाव किए। ब्रिटिश शासन के दौरान अंग्रेजो ने छत्तीसगढ़ राज्य के मध्य भाग को शामिल किया और यह रायपुर, बिलासपुर और दुर्ग से बना हुआ था जिसने छत्तीसगढ़ के भागों को केंद्रीय प्रांत बना दिया था। दुर्ग को सन 1906 में रायपुर के पश्चिम भाग से बनाया गया।

राज्य का उत्तरी भाग छह रियासतों में विभाजित था जिसमें वर्तमान कोरिया, सूरजपुर, सरगुजा, जशपुर और रायगढ़ जिले शामिल हैं।पश्चिम में, नंदगांव, खैरागढ़ और कवर्धा राज्यों में वर्तमान राजनांदगांव और कवर्धा जिले शामिल थे।

दक्षिण में, कांकेर राज्य में वर्तमान कांकेर जिले का उत्तरी भाग शामिल था, और बस्तर राज्य में वर्तमान बस्तर, दंतेवाड़ा और कांकेर जिले का दक्षिणी भाग शामिल था।

भारतीय स्वतंत्रता के बाद, रियासतों को मध्य प्रांत और बरार के साथ मिलाकर मध्य प्रदेश का नया राज्य बनाया गया। वर्तमान में छत्तीसगढ़ में मध्य प्रदेश के सात जिले शामिल हैं। कांकेर और बस्तर के पूर्व राज्यों ने नए बस्तर जिले का गठन किया।

सरगुजा, कोरिया के कुछ हिस्सों और चांग भाकर ने नए सरगुजा जिले का गठन किया और नंदगांव, खैरागढ़ और कवर्धा राज्यों ने नए राजनांदगांव जिले का गठन किया।

1998 में, वर्तमान छत्तीसगढ़ को बनाने वाले सात जिलों को 16 जिलों के रूप में पुनर्गठित किया गया था। दंतेवाड़ा और कांकेर जिले बस्तर से अलग हो गए थे। धमतरी जिला रायपुर से विभाजित किया गया था।

जांजगीर-चांपा और कोरबा जिलों को बिलासपुर से विभाजित किया गया था। जशपुर जिला रायगढ़ से विभाजित किया गया था। कवर्धा जिला बिलासपुर और राजनांदगांव के कुछ हिस्सों से बना था। कोरिया और सूरजपुर जिले को सरगुजा से विभाजित किया गया था। और महासमुंद जिला रायपुर से अलग हो गया था।

1 नवंबर 2000 को, इन 16 जिलों को मध्य प्रदेश से विभाजित करके छत्तीसगढ़ का नया राज्य बनाया गया। बाद में दो नए जिले जोड़े गए। 1 जनवरी 2012 को, छत्तीसगढ़ सरकार ने कुल 27 जिलों के लिए 9 नए जिलों की घोषणा की।

15 अगस्त 2019 को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के 28 वें जिले, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के निर्माण की घोषणा की जिसे बिलासपुर जिले से अलग किया जाएगा। 10 फरवरी 2020 को नए जिले का उद्घाटन किया गया।

Also read:

छत्तीसगढ के जिलों का बंटवारा

छत्तीसगढ़ के जिलों का बंटवारा को संभोग के आधार पर हुआ है जो कि इस प्रकार हैं –

सरगुजा संभाग

  • बलरामपुर-रामानुजगंज
  • जशपुर
  • कोरिया
  • मनेंद्रगढ़ जिला
  • सूरजपुर
  • सरगुजा

बिलासपुर संभाग

  • बिलासपुर
  • गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिला
  • जांजगीर-चंपा
  • कोरबा
  • मुंगेलिक
  • रायगढ़
  • शक्ति
  • सारंगढ़-बिलाईगढ़

दुर्ग संभाग

  • बालोद
  • बेमेतरा
  • दुर्गा
  • कबीरधाम (कवर्धा)
  • खैरागढ़-छुईखदान-गंडई
  • मोहला-मानपुर-चौकी
  • राजनंदगांव

रायपुर मंडल

  • बलौदा बाजार
  • धमतरी
  • गरियाबंद
  • महासमुंद
  • रायपुर

बस्तर संभाग

  • बस्तर
  • बीजापुर
  • दंतेवाड़ा (दक्षिण बस्तर)
  • कांकेर (उत्तर बस्तर)
  • कोंडागांव
  • नारायणपुर
  • सुकमा

निष्कर्ष (Conclusion)

आज के इस लेख में हमने आपको बताया कि  chhattisgarh mein kitne jile hain। अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई है, तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। अगर आपको इस लेख से related कोई सवाल है तो वो भी आप हमे कमेन्ट बॉक्स में पूछ सकते है।

FAQs

प्रश्न: क्षेत्रफल की दृष्टि से छत्तीसगढ़ किस स्थान पर आता है?

उत्तर: क्षेत्रफल की दृष्टि से छत्तीसगढ़ भारत का 9वां सबसे बड़ा राज्य है।

प्रश्न: छत्तीसगढ़ के जिलों की संख्या कितना है?

उत्तर: छत्तीसगढ़ के जिलों की संख्या कुल 33 हैं।

प्रश्न: छत्तीसगढ़ का क्षेत्रफल कितना है?

उत्तर: छत्तीसगढ़ का कुल क्षेत्रफल 135,192 वर्ग किलोमीटर है।

Leave a comment