इलेक्ट्रॉन किसे कहते हैं? खोज, आवेश और मुक्त इलेक्ट्रॉन

दोस्तों विज्ञान के क्षेत्र में इलेक्ट्रॉन का महत्व सर्वाधिक है। परमाणु अणु और अन्य आणविक तत्वों के अनतर्गत होने वाली  प्रक्रियाओं के अंतर्गत इलेक्ट्रॉन का योगदान काफी अधिक होता है। इलेक्ट्रॉन के आवेश तथा इसकी भूमिका रसायन शास्त्र में  इसका महत्व अपने आप में अतुलनीय हैं।

लेकिन कई विद्यार्थी जो आज के समय  एक उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें भी कई बार यह पता नहीं होता कि इलेक्ट्रॉन किसे कहते हैं। यदि आपको भी नहीं पता है तो इसमें शर्मिंदा होने की कोई बात नहीं है, क्योंकि कई बार स्कूली शिक्षा में इसे सही ढंग से नहीं बताया जाता है।

इसी लिए आज हम आपको सरल भाषा में विस्तार से बताएंगे कि electron kise kahate hain hindi, इलेक्ट्रॉन की परिभाषा क्या है, इलेक्ट्रॉन का आवेश कितना होता है, इलेक्ट्रॉन की खोज किसने की, इन सब के बारे में आपको सारी जानकारी  देंगे। तो चलिए शुरू करते हैं-

इलेक्ट्रॉन किसे कहते हैं? | Electron kise kahate hain?

दोस्तों,  इलेक्ट्रॉन परमाणु के अंदर   पाया जाने वाला वह  उपपरमाणु होता है जिसका कोई ना कोई मुख्या स्थान निश्चित होता है और न आवेश निश्चित होता है।  यह जो आवेश को प्राप्त कर सकता है उस आधार पर इलेक्ट्रान को समझा जाता है।

इलेक्ट्रॉन को केवल पदार्थ के रूप में नहीं देखा जा सकता है। यह कण और तरंग दोनों के रूप में अपने व्यवहार को प्रदर्शित कर सकता है।  बीटा-6 के अंतर्गत यह कण के रूप में  काम करता है जबकि यंग के double-slit प्रयोग में यह एक किरण के रूप में व्यवहार करता है। इलेक्ट्रॉन मूल रूप से ऋणात्मक विद्युत आवेश से युक्त मूलभूत उपपरमाणु वाला कण   है।

एक परमाणु मूल रूप से प्रोटोन न्यूट्रोन और इलेक्ट्रॉन से मिलकर बना हुआ होता है, और परमाणु के केंद्रीय भाग को नाभिक कहा जाता है।  नाभिक के अंदर  प्रोटॉन और न्यूट्रॉन होते हैं जबकि इलेक्ट्रॉन नाभिक के बाहरी कक्षा में चारों ओर चक्कर लगाता है।

इलेक्ट्रॉन की खोज किसने की? | electron ki khoj kisne ki

mukt electron kise kahate hain
इलेक्ट्रॉन की परिभाषा | what is electron in hindi

सबसे पहले इलेक्ट्रॉन की खोज जेजे थॉमसन ने की थी, और जे जे थॉमसन ने बताया था कि परमाणु के अंदर एक इलेक्ट्रॉन पाया जाता है जिसका आवेश – 1.6 * 10^-19  कूलाम होता है।

आवेश किसे कहते हैं? | avesh kise kahte hai

जब कोई पदार्थ अपने सामान्य व्यवहार से भिन्न व्यवहार प्रदर्शित करने लगता है। यानी इससे विद्युत क्षेत्र और चुंबकीय क्षेत्र उत्पन्न होने लगता है। पदार्थ के इस गुण को विद्युत आवेश कहते हैं।

अक्सर हम अपने दैनिक जीवन में देखते हैं कि जब हम प्लास्टिक के स्केल को अपने बालों से रगड़ते हैं। तो इसे रगड़ने के बाद हम इसे कागज के छोटे-छोटे टुकड़ों में लेकर आते हैं। तो यह स्केल पेपर के टुकड़ों को अपनी ओर आकर्षित करता है। कागज के टुकड़े खुद से चिपका लिए। तो यह घटना विद्युत आवेश के कारण होती है।

विद्युत आवेश के अन्य उदाहरण हमारे दैनिक जीवन में पाए जाते हैं। उदाहरण के लिए, अंधेरे में जब आप अपने शरीर से टेरीकॉट का कपड़ा उतारते हैं, तो वह बिजली की तरह चमकता है। ये सभी घटनाएं विद्युत आवेश के कारण होती हैं।

विद्युत आवेशित पदार्थ को आवेशित पदार्थ भी कहते हैं।

इलेक्ट्रॉन का आवेश कितना होता है? | electron ka aavesh kitna hota hai

दोस्तों, किसी भी परमाणु के अंदर उपस्थित एक इलेक्ट्रॉन का आवेश- 1.6 * 10^-19  कूलाम होता है, और एक इलेक्ट्रॉन का द्रव्यमान 9.109*10^-33 किलोग्राम होता है।

मुक्त इलेक्ट्रॉन किसे कहते हैं? | Free electron in hindi

एक मुक्त इलेक्ट्रॉन वह उप परमाणु होता है जो किसी भी परमाणु के चारों ओर चक्कर नहीं लगाता है। अर्थात वह पूर्ण रुप से स्वतंत्र होता है, और ऐसे स्वतंत्र इलेक्ट्रॉन के कारण ही विद्युत धारा प्रवाह की जाती है। विद्युत धारा प्रवाह में इलेक्ट्रॉन ही काम में आते हैं,  और  किसी भी धातु या पदार्थ में जितने ज्यादा मुक्त इलेक्ट्रॉन होंगे उतने ही अधिक  सरल तरीके से विद्युत उस पदार्थ से ऊपर गुजर सकेगी, अर्थात वह पदार्थ उतना ही अच्छा सुचालक हो सकेगा  अन्यथा वह पदार्थ अचालक या कुचालक होगा।

इलेक्ट्रॉन की उपस्थिति से क्या होता है?

कुछ महत्वपूर्ण भौतिक घटनाएं जैसे कि विद्युत, चुंबकत्व, ऊष्मा, चालकता, विद्युत गुण, यह सभी इलेक्ट्रॉन की उपस्थिति में होने  वाली घटनाएं है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के लेख में हमने आपको बताया कि इलेक्ट्रॉन क्या है परिभाषा (electron mein kise kahate hain). इसके अलावा हमने आपको यह भी बताया कि मुक्त इलेक्ट्रॉन किसे कहते हैं, और इलेक्ट्रॉन की खोज किसने की।

आशा करते हैं कि आज का हमारा यह लेख पढ़कर आप समझ पाए होंगे कि electron kya hota hai और इलेक्ट्रॉन के कारण कौन सी घटनाएं होती है।

जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। यदि आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई सवाल है जो आप हमसे पूछना चाहते हैं तो कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट कर के पूछ सकते हैं।

FAQ

इलेक्ट्रॉन कहां पाए जाते हैं?

प्रोटॉन और न्यूट्रॉन के विपरीत, जो एक परमाणु के केंद्र में नाभिक के अंदर स्थित होते हैं, इलेक्ट्रॉन नाभिक के बाहर पाए जाते हैं। चूँकि विपरीत विद्युत आवेश एक दूसरे को आकर्षित करते हैं, ऋणात्मक इलेक्ट्रॉन धनात्मक नाभिक की ओर आकर्षित होते हैं।

इलेक्ट्रॉन कैसा दिखता है?

एक इलेक्ट्रॉन एक कण की तरह दिखता है जब यह अन्य वस्तुओं के साथ कुछ तरीकों से संपर्क करता है (जैसे उच्च गति के टकराव में)। मानक मॉडल के अनुसार, जब एक इलेक्ट्रॉन एक कण की तरह दिखता है तो इसका कोई आकार नहीं होता है।

इलेक्ट्रॉन कितना बड़ा होता है?

तरंग-लंबाई और कठोर एक्स-रे और γ-किरणों के बिखरने के लिए सर्वोत्तम उपलब्ध मूल्यों का उपयोग करते हुए, इलेक्ट्रॉन की त्रिज्या लगभग 2 × 10−10 सेमी अनुमानित की जाती है।

1 thought on “इलेक्ट्रॉन किसे कहते हैं? खोज, आवेश और मुक्त इलेक्ट्रॉन”

Leave a comment