Plate Earthing क्या है? किन-किन सामग्री की आवश्यकता होती है?

नमस्कार दोस्तो, आपने अपनी जीवन के अंतर्गत अक्सर plate earthing के बारे में जरूर पढ़ा होगा या फिर कहीं ना कहीं तो इसके बारे में जरूर पढ़ा होगा। दोस्तों क्या आप जानते हैं, कि, प्लेट अर्थिंग क्या है इसके कितने प्रकार होते हैं, तथा इसको बनाने के लिए किस-किस सामग्री की आवश्यकता होती है। यदि आपको इस विषय के बारे में कोई जानकारी नहीं है, तथा इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इसके बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताने वाले हैं, कि प्लेट अर्थिंग क्या होता है, इसके अलावा हम आपको इस विषय से जुड़ी हर एक जानकारी इस पोस्ट में देने वाले हैं।

प्लेट अर्थिंग क्या है?

अगर दोस्तों बात की जाए कि प्लेट अर्थिंग क्या होती है, तो यह एक प्रकार की अर्थिंग ही होती है, इसके अंतर्गत मुख्य इलेक्ट्रॉन के रूप में कॉपर से बनी एक अर्थिंग प्लेट का इस्तेमाल किया जाता है। इस प्लेट को पृथ्वी के अंतर्गत गहराई में एक विधि के अनुसार स्थापित किया जाता है, और इस प्लेट के उपयोग से हमें अर्थिंग प्राप्त होती है, जिसको प्लेट अर्थिंग के नाम से जाना जाता है।

इस प्रकार के अर्थ इन का उपयोग मुख्य रूप से उन जगहों पर किया जाता है, जहां पर हमें पृथ्वी के भीतर नामी देखने को मिलती है, या फिर वहां पर नमी की कुछ मात्रा होती है। दोस्तों इस प्रकार की अर्थिंग काफी पावरफुल होती है, तो ऐसे में इसका इस्तेमाल भी काफी किया जाता है।

प्लेट अर्थिंग के लिए किन-किन सामग्री की आवश्यकता होती है?

दोस्तों किसी भी प्लेट अर्थिंग के लिए निम्न प्रकार की सामग्री की आवश्यकता होती है:-

  1. अर्थिंग प्लेट – 60 सेमी x 60 सेमी ( लम्बाई x चौडाई ) और 3.15 मिमी. मोटाई
  2. अर्थिंग वायर – 8 SWG ( GI Wire )
  3. अर्थिंग पाइप – 12.7 मिमी. व्यास गैल्वेनाइज्ड आयरन ( GI )
  4. GI वाटर पाइप – 19.5 मिमी.व्यास जिसकी लम्बाई 1.2 मीटर हो
  5. फनल – तार की जाली के फ़िल्टर सहित
  6. ढक्कन – 30 सेमी. x 30 सेमी. ( कास्ट आयरन )
  7. नमक – डलेदार नमक
  8. चारकोल – कच्चा कोयला चूर्ण वाला
  9. नट एवं बोल्ट – 50 मिमी. x 8 मिमी. ( कॉपर )

प्लेट अर्थिंग कैसे करें?

यदि दोस्तों कोई भी व्यक्ति प्लेट अर्थिंग करना चाहता है, तो उसके लिए सबसे पहले आप हमारे द्वारा बताई गई सामग्री उसके पास होने आवश्यक है, उसके बाद उसे प्लेट अर्थिंग करने के लिए निम्न विधि को फॉलो करना है:-

plate earthing diagram

प्लेट अर्थिंग करने के लिए आपको सबसे पहले एक 90 * 90 सेंटीमीटर लंबाई चौड़ाई वाला एक गड्ढा खोद लेना है। आपको इस गड्ढे की गहराई 2 मीटर से लेकर 3 मीटर तक रखनी है। आपको जब भी गड्ढे के अंदर कितने हमें प्राप्त हो जाती है तो आप इतनी दूर तक की यह गड्ढा खोद सकते है। इसके अलावा यदि आपको नाम ही नहीं मिल पाती है तो आपको भारी जल के माध्यम से वहां पर नवीन करनी होती है।

यह करने के बाद आपको प्लेट के साथ जी आई वायर को नट और बोल्ट की सहायता से अर्थिंग प्लेट के अंतर्गत कष्ट देना है, और उसके बाद आपको GI को 12.7 mm व्यास वाले पाइप के अंतर्गत से गुजारना है।

गड्डे के अन्दर प्लेट को उध्वार्धर स्थिति में रखे और इस प्लेट के चारों और 15 सेमी. मोटाई में चारकोल और नमक की पर्तें बिछाएं | पहले चारकोल फिर नमक फिर चारकोल फिर नमक इस क्रम में पर्तें बिछातें रहे।

कुछ पर्तें बिछाने के बाद 19.5 mm व्यास वाले जल पाइप को इन पतों के साथ रखे और बचे हुए कुछ चारकोल और नमक को गड्डे से निकाली हुयी मिटटी के साथ अच्छे से मिक्स कर ले और इस मिटटी से गड्डे को पूरी तरह भर दे।

गड्डे से निकले हुए जल पाइप के साथ ऊपर एक फनल लगा दे | और गड्डे के ऊपर इस फनल के चारों और 30 * 30 सेमी कंक्रीट का बॉक्स उसमें कास्ट आयरन से बना कब्जे युक्त ढक्कन लगा दे।

कंक्रीट बॉक्स सुख जाने के बाद फनल की सहायता से अर्थिंग में पानी डाले और अर्थिंग से निकला हुआ GI वायर आपका अर्थ वायर होगा इसे आप अर्थिंग के लिए उपयोग कर सकते है।

अर्थिंग सही से काम कर रही है या नही कैसे चेक करे

आपके द्वारा किया गया अर्थ शक्तिशाली है या नहीं, यह जांचना आवश्यक है कि यह ठीक से काम कर रहा है या नहीं, अन्यथा आपको यह सोचकर मूर्ख बनाया जाएगा कि हमने अर्थिंग किया है, हमारी किसी भी मशीन से हमें कोई खतरा नहीं होगा, हमारे सभी उपकरण मशीन सुरक्षित है और बाद में यह पाया गया है कि आपके द्वारा किया गया अर्थिंग प्रतिरोध बहुत अधिक है और यह ठीक से काम नहीं कर रहा है।

इस समस्या से बचने के लिए, आपको पृथ्वी परीक्षक की मदद से अर्थिंग की जांच करनी चाहिए। यदि आप नहीं जानते हैं कि अर्थिंग की जांच कैसे करें, तो हमारे लेख को पढ़ें जिसमें हमने आपको बताया है कि पृथ्वी परीक्षक के साथ अर्थिंग कैसे जांचें।

Also read:

निष्कर्ष

तो इस पोस्ट के अंतर्गत हमने आपको बताया कि प्लेट अर्थिंग क्या होता है, इसके अलावा इस विषय से जुड़ी अन्य जानकारी अभी हमने आपके साथ शेयर की है। हमें उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई है, फिर तो आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया जानने को मिला है

अर्थिंग कितनी होनी चाहिए?

यदि हम सामान्य अर्थिंग के बारे में बात करते हैं तो इसका मूल्य 1-2 ओम से कम होना चाहिए। लेकिन कुछ स्थानों पर अर्थिंग प्रतिरोध का मूल्य 5 ओम तक चला जाता है। लेकिन किसी भी स्थिति में, हमारे अर्थिंग का मूल्य 5 ओम के प्रतिरोध के मूल्य से अधिक नहीं होना चाहिए।

प्लेट अर्थिंग में प्लेट की मोटाई कितनी होती है?

जब रिफ्लो ग्राउंडिंग खनिजों के साथ संयोजन में उपयोग किया जाता है, तो यह रेतीले या चट्टानी मिट्टी में अच्छी तरह से काम करेगा। इसमें, 600 मिमी x 600 मिमी के न्यूनतम आकार और 6.3 मिमी की मोटाई वाली एक जीआई प्लेट का उपयोग किया जाता है।

कौन सी अर्थिंग सस्ती है?

पाइप अर्थिंग अर्थिंग का सबसे अच्छा तरीका है और लागत में बहुत सस्ता है।

HomepageClick Hear