BPSC क्या है, History, Qualification, Syllabus और full form

BPSC क्या है, History, Qualification, Syllabus और full form

बिहार में रहने वाले हर सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे आकांक्षी की BPSC पास करने की इच्छा होती है। क्योंकि BPSC की मदद से State Machinery में Bureaucrat बनने का मौका मिलता है। लेकिन काफी उम्मीदवारों’ को यह पता नहीं होता है कि BPSC kaise pass kari jati hai।

इसीलिए आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि BPSC ke liye Qualification in hindi  क्या है, BPSC Age Limit, BPSC Syllabus, BPSC Attempts, इन सब के बारे में हम आपको पूरी जानकारी देंगे।

तो चलिए शुरू करते हैं-

BPSC क्या है? | BPSC Kya hai

BPSC, बिहार राज्य सरकार के द्वारा आयोजित की जाने वाली राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा होती है। BPSC के अंतर्गत बिहार राज्य के Civil Service की परीक्षा आयोजित की जाती है, जहां पर मेरिट के आधार पर उम्मीदवारों का चयन किया जाता है।

जो भी उम्मीदवार BPSC के परीक्षा को पास कर लेता है वह Bihar State Machinery में एक Civil Servant के तौर पर Bureaucrat बन जाता है, और बिहार राज्य को सही ढंग से चलाने में अपना योगदान देता है। एक प्रकार के किसी भी राज्य में Civil Servant की मान्यता तथा अधिकार एक Bureaucrat के तौर पर सबसे अधिक होता है।

BPSC का इतिहास

बिहार राज्य के लिए लोक सेवा आयोग की परीक्षा बिहार राज्य के गठन यानी कि 1 अप्रैल 1949 से शुरू हुई है। बिहार का गठन करने के लिए उड़ीसा राज्य तथा मध्य प्रदेश राज्य से बिहार राज्य को अलग किया गया था, और बिहार राज्य बनने के बाद बिहार राज्य के लोक सेवा आयोग के मुख्यालय को रांची से पटना शिफ्ट किया गया था।

राज्य लोक सेवा आयोग के बारे में भारत के संविधान के भाग 14 में विस्तार के प्रावधान किए गए हैं। इसके लिए भारतीय संविधान के अनुच्छेद 315 से लेकर के 323 तक Public Service कमिशन इन India के बारे में पूरी जानकारी दी गई है, जिसमें राज्य लोक सेवा आयोग के बारे में भी पूरी जानकारी दी गई है। Public Service Commission India दो प्रकार की होती हैं जिसमें-

  • Union Public Service Commission of India
  • State Public Service Commission of India के अंतर्गत राज्य को तथा संघ को अपने लिए All India Service तथा State Civil Service की परीक्षा आयोजित करने का अधिकार होगा।

इसके अंतर्गत राज्यों और संघ के लिए Bureaucrats चुने जाएंगे, जो राज्य स्तर पर अपने राज्य को संभालने का काम करेंगे, और All India Service के अंतर्गत पूरे भारतवर्ष को संभालने का काम करेंगे।

BPSC की शुरुआत कब हुई?

BPSC की शुरुआत भारत सरकार अधिनियम 1965 के तहत की गई थी, यानी कि सन 1965 में जब संघ लोक सेवा आयोग तथा राज्य लोक सेवा आयोग का गठन किया गया था, तो उसी के साथ बिहार राज्य लोक सेवा आयोग का गठन भी किया गया था, और तभी इसकी शुरुआत हुई थी।

Also read: BDC Full Form

BPSC full form क्या है?

आपने हिंदी में जान लिया कि BPSC का मतलब बिहार लोक सेवा आयोग है, लेकिन अब हम आपको BPSC का वास्तविक मतलब बताते हैं। BPSC का अंग्रेजी में वास्तविक मतलब Bihar Public Service Commission होता है, जिसे हिंदी में बिहार लोक सेवा आयोग के नाम से जाना जाता है। BPSC चार अंग्रेजी अक्षरों से मिलकर बना है जो  B P S C है। तथा यहां पर B का मतलब बिहार, P का मतलब Public, S का मतलब Service, तथा C का मतलब Commission होता है।

BPSC Kya hai | BPSC full form

BPSC की परीक्षा कब होगी?

बिहार राज्य सरकार के द्वारा BPSC की परीक्षा हर वर्ष आयोजित की जाती है, और यह परीक्षा आमतौर पर मई-जून के महीने में आयोजित की जाती है। वर्ष 2022 में 15 मई 2022 को BPSC की Prelims परीक्षा आयोजित की जाएगी, और जो भी candidate Prelims परीक्षा को पास करेंगे, उन्हें BPSC Mains Exam में बैठने का मौका मिलेगा। जो BPSC Mains Exam करेंगे उन्हें बाद में चुनने की प्रक्रिया Interview से शुरू की जाएगी।

BPSC ke liye Qualification in Hindi | BPSC के लिए योग्यता

बिहार राज्य लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा में भाग लेने के लिए किसी भी आकांक्षी को बहुत बड़ी Qualification का सामना नहीं करना पड़ता है इसके अंतर्गत-

  • व्यक्ति को भारत के बिहार राज्य का नागरिक होना चाहिए।
  • उसकी आयु 21 वर्ष से अधिक होनी चाहिए और 30 साल तक की होनी चाहिए, कुछ मामलों में वर्गों के आधार पर उम्र सीमा में छूट मिलती है।
  • BPSC की परीक्षा में भाग लेने के लिए Graduation को केवल पास करना जरूरी है कोई Minimum Passing Marks आवश्यक नहीं है लेकिन Graduation होनी आवश्यक है।
  • BPSC का Form भरने के लिए किसी भी बिहार राज्य के नागरिक को मान्यता प्राप्त University से Graduation किया हुआ होना चाहिए।
  • हालांकि जो व्यक्ति Deploma कर चुके हैं उन्हें यह Form भरने की आज्ञा नहीं है।
  • केवल Graduate या फिर विद्यार्थी जो अपने Graduation के Last Semester में है या Last Year में है, इस परीक्षा में बैठ पाएंगे।
  • Graduation के लिए Bachelor in Arts, Bachelor of Science, Bachelor of Business Administration, B।Tech, Agriculture, Medical से रिलेटेड कोर्स किए जा सकते हैं, और और भी कई अन्य Graduation Course के द्वारा BPSC की परीक्षा में बैठ जा सकता है।

Also read: Letting me know meaning in Hindi

BPSC Syllabus

BPSC का Syllabus बिल्कुल भी छोटा नहीं है। BPSC की परीक्षा मुख्यतः तीन चरणों में पार करी जाती है। इसके लिए

  • Prelims Exam
  • Mains Exam
  • और Interview को पास करना आवश्यक है।
  • यहां पर Prelims में केवल एक Objective Paper होता है जोकि 150 नंबर का होता है।
  • मुख्य परीक्षा जिसे Mains की परीक्षा के नाम से जाना जाता है, वह 4 लेखन पेपर के द्वारा पूरा किया जाता है, जिसके कुल अंकों की संख्या 1000 होती है।
  • BPSC में इंटरव्यू 120 नंबर का होता है।
  • BPSC की प्रारंभिक परीक्षा जाने की Prelims का Exam देने के लिए व्यक्ति को सामान्य ज्ञान, गणित, तार्किक शक्ति, और वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • BPSC की मुख्य परीक्षा में सामान्य हिंदी पेपर 100 अंकों का होता है, जिसकी 3 घंटे की परीक्षा होती है और इस परीक्षा में कम से कम 30% अंक प्राप्त करना जरूरी है।
  • सामान्य अध्ययन पत्र – 1 के अंतर्गत 300 अंकों के सवाल पूछे जाते हैं, और 3 घंटे में यह परीक्षा पूरी होती है।
  • सामान्य अध्यान पत्र – 2 के अंतर्गत 300 पूर्णांकों के सवाल पूछे जाते हैं और यह परीक्षा भी 3 घंटे में पूरी होती है।

सिलेबस (syllabus)

मुख्य परीक्षा के लिए आपको भारत का आधुनिक इतिहास, भारतीय संस्कृति, राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय महत्व की वर्तमान की घटना चक्र, संख्याकी विश्लेषण, आरक्षण, चित्रण, भारतीय राजव्यवस्था, भारतीय अर्थव्यवस्था, भारतीय भूगोल, भारतीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, क्लाइमेट चेंज इन सब के संबंध में सवाल पूछे जाते हैं।

BPSC के इंटरव्यू में आमतौर पर वह सारे सवाल पूछे जाते हैं जो एक बिहार राज्य के आकांक्षी Civil Servant को आने चाहिए।

Also read: Don’t tell people your dreams show them meaning in Hindi

BPSC के कितने Attempt दे सकते हैं?

BPSC के कितने Attempt दे सकते हैं, इस सवाल का जवाब तो यह होगा कि आपकी उम्र के अनुसार जब तक परीक्षा देने के लिए आपकी उम्र सीमा है तब तक आप Exam दे सकते हैं, और साल में एक बार यह परीक्षा आयोजित की जाती है।

BPSC में कितना वेतन मिलता है?

BPSC के अंतर्गत किसी भी उम्मीदवार को BPSC की परीक्षा पास करने के पश्चात और Post मिलने के बाद तकरीबन ₹44900 की सीधी सैलरी हाथ में दी जाती है, इसके बाद में DA, HRA, TA यह सब कुछ मिला कर के 60,000 से ज्यादा की सैलरी हो जाती है।

Also read: Collector कौन होता है? कार्य, परीक्षा पैटर्न, योग्यता और शिकायत

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने जाना कि BPSC kya hai, तथा BPSC ke liye Qualification in Hindi क्या है। हम आशा करते हैं कि आज का यह लेख आपके लिए मददगार रहा होगा। यदि आप कुछ सवाल पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

FAQ

बीपीएससी का मतलब क्या होता है?

बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) भारत के संविधान द्वारा बनाई गई संस्था है, जो भारत के बिहार राज्य में सिविल सेवा की नौकरियों के लिए आवेदकों का चयन करती है।

बीपीएससी के लिए क्या योग्यता है?

अगर आप इस परीक्षा के लिए आवेदन करना चाहते है तो सबसे पहले आपको 12वीं पास होना चाहिए। और किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक होना चाहिए।

Leave a comment