ट्रेडिंग कैसे सीखें | How to Learn Trading in Hindi [2023]

ट्रेडिंग कैसे सीखें – लोग extra earning के अलग-अलग साधन ढूंढते रहते हैं। पहले लोग शेयर मार्केट में ट्रेडिंग दूसरे लोगों के द्वारा दिए गए tips इत्यादि के base पर करते हैं, परंतु भारत में अब धीरे-धीरे trend बदलता जा रहा है। लोग खुद ट्रेडिंग सीख कर ट्रेडिंग करने की तरफ अधिक रुचि दिखा रहे हैं, तो इसीलिए आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि ट्रेडिंग कैसे सीखे?

दोस्तों, यदि आप भी शेयर मार्केट में ट्रेडिंग सीख कर इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो यह एक बहुत ही समझदारी वाला step होगा। अगर आप यह ढूंढ रहे हैं कि how to learn trading in Hindi (2023) तो बिल्कुल निश्चिंत हो जाएं। इस लेख के माध्यम से आज हम आपको कुछ ऐसी books, apps इत्यादि के बारे में बताएंगे जिनके माध्यम से आप ट्रेंडिंग आसानी से सीख सकते हैं। तो चलिए लेख को शुरू करते हैं –

ट्रेडिंग क्या है?

शेयर मार्केट में trading का मतलब होता है किसी भी share को खरीदना या बेचना। ट्रेडिंग कई प्रकार की होती है जैसे option trading, intraday trading, swing trading इत्यादि।

अगर आप भी ट्रेडिंग करके पैसा कमाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे जरूरी है कि आप पहले trading करना सीखें क्योंकि जब भी लोग बिना सीखे लाइव मार्केट में trade करते हैं तो 99% trader को नुकसान ही होता है।

इसलिए यह बहुत जरूरी हो जाता है कि आप ट्रेडिंग सीख कर ही लाइव मार्केट में कदम रखें।

ट्रेडिंग कैसे सीखें | How to Learn Trading in Hindi

नीचे हमने विस्तार से समझाया है की आप ट्रेडिंग कैसे सीख सकते हैं और एक सफल trader बन सकते हैं। ट्रेडिंग सीखने के लिए बताए गए तरीको को अनुशासित तरीके से इसका पालन करें। तो चलिए समझते हैं – 

  • Trading के बेसिक fundamental समझें
  • टेक्निकल analysis करना सीखें
  • Candlestick chart pattern के बारे में सीखें
  • सही stock select करना सीखें
  • शुरुआत में कोई एक trading style चुनें
  • ग्लोबल मार्केट analysis करना सीखें
  • अपना पसंदीदा trading type का प्रकार सिलेक्ट करें
  • Option chain analysis करके ट्रेडिंग करना सीखें
  • ट्रेडिंग physcology के बारे में अधिक से अधिक पढ़ें
  • मोबाइल एप्स के द्वारा paper trading ट्रेडिंग की प्रैक्टिस करें
  • ट्रेडिंग चार्ट पर trendline उपयोग करना सीखें
  • Blog पढ़कर और vedios देखकर ट्रेडिंग सीखे
  • शेयर मार्केट कोर्स करके online ट्रेडिंग सीखें
  • Support एंड resistance पर ट्रेडिंग करना सीखें
  • टेक्निकल indicator के बारे में पता करें
  • Stop loss और target पता करना सीखें
  • ट्रेडिंग की किताबें पढ़कर basics clear करें
  • सफल trader को फॉलो करे

Trading के basic fundamental समझे

  • ट्रेडिंग में कभी भी अपना पूरा पैसा एक साथ ना लगाए या कभी भी लोन लेकर पैसा ना लगाए।
  • केवल दूसरों के टिप्स के भरोसे मत रहे, बल्कि खुद के एनालिसिस पर भरोसा करें।
  • किसी भी share को बढ़ाता हुआ या गिरता हुआ देखकर मत खरीदे, बल्कि उसके बढ़ने या गिरने की वजह का पता करें।
  • आपको ट्रेड लेने से पहले अपनी entry और ट्रेड कब exit करना है इसका पता होना चाहिए।
  • ट्रेडिंग करते समय अपने emotions को कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी होता है, क्योंकि ट्रेडिंग में आपका real पैसा लगा होता है तो आप उसकी घटती या बढ़ती वैल्यू पर ध्यान न देकर अपनी रिसर्च के अनुसार ही ट्रेडिंग स्ट्रेटजी पर बने रहे।

यदि आप ट्रेंडिंग शुरू करना चाहते हैं तो आपको बेसिक नियमों का पालन करना ही होगा तभी आप ट्रेंडिंग से मुनाफा कमा सकते हैं।

Technical analysis करना सीखे

  • आपको chart pattern को पढ़ना व देखना आना चाहिए।
  • Candlestick के बारे में जानकारी होनी चाहिए।
  • Support और resistance के बारे में सीखे।
  • Target और SL कैसे set करे, यह सीखे।
  • Technical indicator के बारे में सीखे।
  • Price action के बारे में जरूर सीखे।
  • Stock का momentum और volume check करे।

Candlestick chart के बारे मे सीखे

आपको कैंडलेस्टिक चार्ट पर पकड़ होनी चाहिए। आपकी study इतनी अच्छी होनी चाहिए कि आप बनने वाली कैंडल से मार्केट के moment का अंदाजा लगा पाओ। कभी बॉडी बहुत छोटी तो किसी candle की बहुत बड़ी होती है किसी की shadow बड़ी या छोटी होती हैl

सही stock की selection करना चाहिये

  • जब भी आप किसी स्टॉक में ट्रेड करें तो उसके support और resistance का पता लगाए।
  • Support level वह होता है जहां से price बढ़ना शुरू होता है और रेजिस्टेंस वह होता है जहां से price करना शुरू होता है।
  • रजिस्टेंस का support का price पता करने के बाद उन पर एक trendline खींच दीजिए। इन दोनों price के बीच में एक range बन जाएगी।
  • इससे आपको share के entry और exit पता होना चाहिए। जब शेयर support price को छूता है और ऊपर की ओर बढ़ने लगता है तो वैसे ही entry लेनी होती है और जैसे ही वह रेजिस्टेंस पर पहुंचे वैसे ही exit कर देना होता है।

शुरुआत में कोई एक trading strategy चुने

हर किसी trader का अपना ट्रेडिंग स्टाइल होता है। कोई safe trading करना पसंद करता है तो कोई aggressive ट्रेडिंग करता है। एक तरफ कुछ लोग कम पैसा लगाकर ज्यादा रिटर्न पाना चाहते हैं जिसमें risk भी ज्यादा रहता है तो वहीं पर कुछ trader अधिक पैसा लगाकर कम रिटर्न में भी संतुष्ट रहते हैं और इसमें रिस्क भी काम रहता है।

कहने का  मतलब है कि आप जिस किसी भी प्रकार से ट्रेडिंग करो परंतु आपका trading स्टाइल जरूर होना चाहिए। तभी आप long term में success trader बन पाएंगे।

ग्लोबल मार्केट एनालिसिस करना सीखे

ग्लोबल मार्केट में सबसे जरूरी सिंगापुर निफ्टी होता है क्योंकि SGX nifty देखने से आपको काफी हद तक यह अंदाजा लग जाता है कि निफ्टी ऊपर जाएगा या नीचे  80% से भी अधिक बार यह देखा गया है कि भारत का निफ्टी उसी दिशा में चलता है जिस दिशा में सिंगापुर का निफ्टी चलता है।

इसके अलावा dow jones और nasdaq पर भी नजर रखना जरूरी है। यह us मार्केट का इंडेक्स होता है जिससे यह अंदाज़ लग जाता है कि इंडियन शेयर मार्केट किस तरफ जाने की संभावना रखता है और उसी अनुसार हम अपना ट्रेड प्लान कर सकते हैं।

अपना पसंदीदा trading type का प्रकार सिलेक्ट करें

दोस्तों, आपको यह भी clear होना चाहिए कि आप किस ट्रेडिंग टाइप को चुनना चाहते हैं यानी कि ऑप्शन ट्रेडिंग, स्विंग ट्रेडिंग इत्यादि। आप जिस भी ट्रेडिंग को चुने उसके बारे में अपने सभी तथ्यों को मजबूत कर ले ताकि आप लंबे समय में एक सफल ट्रेंड बन सके।

Option chain analysis करके ट्रेडिंग करना सीखें

ऑप्शन चैन मे trade करने के लिए आपको निम्न बातों का पता होना चाहिए :-

  • शेयर मार्केट के trend की दिशा
  • बाजार में volume यानी कि buyers और sellers की संख्या देखकर आप momentum का अंदाजा लगा सकते हैं।
  • मार्केट के important support और resistance प्राइस का पता लगाया जा सकता है।
  • आज मार्केट में ज्यादा buyers हावी हैं या ज्यादा sellers हावी है। उसी के आधार पर आप अपनी trading strategy बना सकते हैं।

ट्रेडिंग physcology के बारे में अधिक से अधिक पढ़े

यदि आप ट्रेंडिंग शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले ट्रेडिंग के प्रति आपकी साइकोलॉजी सही होनी चाहिए। यदि आपकी साइकोलॉजी सही है तो आपको एक सफल ट्रेड बनने से कोई नहीं रोक सकता।

अगर आप 10 ट्रेड करते हैं और उसमें से आप 7 ट्रेड में प्रॉफिट कमाते हैं तो इसका मतलब है कि आपकी साइकोलॉजी सही है, परंतु वही अगर आप 10 trade करते हैं और उसमें से दो ट्रेड में प्रॉफिट कमाते है और बाकी में लॉस कर रहे हैं तो आप की साइकोलॉजी weak है।

इसका मतलब हुआ कि आपको ट्रेडिंग साइकोलॉजी वह मजबूत बनाने की आवश्यकता है। इसीलिए ट्रेडिंग साइकोलॉजी के बारे में अधिक से अधिक पढ़े।

Trading Sikhane Wala app

आजकल मार्केट में बहुत सारी virtual trading mobile apps और वेबसाइट मौजूद है। जिन पर जाकर आप paper trading की practice कर सकते हैं। जैसे – Moneyview, यह पॉपुलर वेबसाइट मनीकंट्रोल का ही एक platform है। यह आपको फ्री में virtual trading करने की सुविधा देता है।

इसके अलावा zerodha, groww, dhan इत्यादि app भी है जिनसे आप trading सिख सकते हैं।

इस वेबसाइट पर आपको trade करने के लिए virtual money दिया जाता है और उसके द्वारा आप real live market में ट्रेड कर सकते हैं। इसका फायदा यह है कि आपका खुद का पैसा नहीं लगेगा और आपको trading का असली एक्सपीरियंस भी मिल जाएगा।

Paper trading करते-करते आप धीरे-धीरे पाएंगें कि आपकी trading skills मे सुधार होने लगा है। आप धीरे-धीरे अपने real demat ac के द्वारा ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं।

Trading kaise sikhe video

दोस्तों, यूट्यूब पर बहुत सारी वीडियो मौजूद है जिन्हें step by step देखकर ट्रेडिंग करना सीख सकते हैं। इसके लिए बहुत जरूरी है कि आप किसी अच्छे सफल ट्रेडर्स की वीडियो देखना शुरू करें। उसके द्वारा दिए गए ट्रेडिंग के टिप्स को अपनाये और अनुशासन में रहकर ही ट्रेडिंग करें।

Trading kaise sikhe book

अगर आप ट्रेडिंग करना सीखना चाहते हैं तो इसके लिए मार्केट में बहुत सारी किताबें मौजूद हैं जो स्पेशल ट्रेडिंग के लिए लिखी गई है। किताबें ट्रेडिंग की साइकोलॉजी पर लिखी गई है। कुछ किताबें ऑप्शन चैन पर लिखी गई है तो कुछ किताबें हैं जिनमें ट्रेडिंग का A to Z बताया गया है। यहां पर हम कुछ किताबों के नाम दे रहे हैं जिन्हें पढ़ कर आप ट्रेडिंग करना सिख सकते हैं :-

  • The intelligent investor
  • Rich dad guide to investing
  • Intraday trading ki pehchan
  • ट्रेडनीती
  • Technical analysis and candlestick pattern

FAQ‘s

Q. 1 पेपर ट्रेडिंग कैसे करे?

Ans. पेपर ट्रेडिंग में हम लाइव मार्केट में strategy को अपना कर देखते हैं। जब भी हमारी स्ट्रेटजी के according setup बनता है तो उस ट्रेड को हम कागज पर लिख लेते हैं। अपना entry point और exit point दोनों क्लियर रखते हैं। इससे हमारे साइकोलॉजिस्ट strong होती है और धन की भी हानि नहीं होती। इस प्रकार से आप पेपर ट्रेडिंग कर सकते हैं।

Q. 2 ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे सीखे?

Ans. आप ऑनलाइन कोर्स purchase कर सकते हैं और ऑनलाइन ट्रेडिंग सीख सकते है। इसके अलावा इंटरनेट पर बहुत सारी वीडियो और books available है जिनके माध्यम से आप ऑनलाइन ट्रेडिंग सीख सकते हैं।

Q. 3 मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करे?

Ans. यदि आप मोबाइल से ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो इसके लिए आप simply किसी भी ब्रोकर की app जैसे zerodha, dhan, grow इत्यादि को डाउनलोड करके अपनी सभी फॉर्मेलिटी पूरी करके आसानी से किसी भी ट्रेड को execute कर सकते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों, हम उम्मीद करते हैं कि ऊपर दिए गए लेख के माध्यम से आप समझ गए होंगे कि ट्रेडिंग कैसे सीखें | How to Learn Trading in Hindi [2023] । यदि यह लेख आपके लिए मददगार है तो इस blog को अन्य लोगों के साथ भी जरूर शेयर करें ताकि वह भी एक सही दिशा में learning शुरू कर दे, क्योंकि यदि शेयर मार्केट में गलत learne हो जाता है तो आपको भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

इसके अलावा यदि आप शेयर मार्केट को full time business बनाने का भी सोच रहे हैं तो उसके लिए आप बिल्कुल भी दूसरे लोगों के द्वारा दिए गए टिप्स पर dependent नहीं रह सकते। इस के लिए बहुत जरूरी है कि आप ऊपर के लेख में दिए गए बुक्स को या सुझाव को जरूर अपनाएं और सेल्फ लर्निंग करें।

ऊपर दिए गए लेख से संबंधित कोई भी प्रश्न आपके मन में है तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। अगर आप किसी अन्य विषय पर जानकारी चाहते हैं तो इसके लिए भी आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं।

HomepageClick Hear