उत्तर प्रदेश का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?

उत्तर प्रदेश का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?

दोस्तों, राजमार्ग हमारे देश के सबसे बेहतरीन पथ प्रदर्शक है। राष्ट्रीय राजमार्गों के कारण हमारा देश आज के समय तरक्की की राह पर है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हमारे उत्तर प्रदेश से कितने राष्ट्रीय राजमार्ग होकर गुजरते हैं? और uttar pradesh ka sabse lamba rashtriya rajmarg कौन सा है?

यदि आप नहीं जानते तो कोई बात नहीं, क्योंकि आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि uttar pradesh ka sabse lamba rashtriya rajmarg कौनसा है, उत्तर प्रदेश से कितने राष्ट्रीय राजमार्ग गुजरते हैं, उत्तर प्रदेश के कौन-कौन से क्षेत्रों से राष्ट्रीय राजमार्ग गुजरते हैं। तो चलिए शुरू करते हैं-

देश में कुल कितने राष्ट्रीय राजमार्ग है?

आज के समय हमारे देश में राष्ट्रीय राजमार्गों की संख्या 599 से भी अधिक है, और इनकी लंबाई कुल मिलाकर 1,13,298 किलोमीटर से भी अधिक है। यदि हम हमारे देश की कुल सड़कों की बात करें तो राष्ट्रीय राजमार्ग मात्र इसका 1।8 प्रतिशत भाग है। लेकिन यह राष्ट्रीय राजमार्ग हमारे देश का 40% कम कर देते हैं।

हमारे देश का सबसे बड़ा National Highway National Highway 44 है, जो कि जम्मू कश्मीर के श्री नगर सेक्टर से लेकर तमिलनाडु के कन्याकुमारी को जोड़ता है। इसकी कुल लंबाई 3500 किलोमीटर से अधिक है।

इसके अलावा हम छोटे राष्ट्रीय राजमार्ग की बात करें तो राष्ट्रीय राजमार्ग 47a है, जो कि छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग के जिसकी लंबाई मात्र 6 किलोमीटर है। भारत में पुणे मुंबई एक्सप्रेस वे राष्ट्रीय राजमार्ग एकमात्र ऐसा राजमार्ग है, जिसे कंक्रीट से बनाया गया है।

उत्तर प्रदेश का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है? | Uttar Pradesh Ka Sabse Lamba Rashtriya Rajmarg kon sa hai

Uttar Pradesh Ka Sabse Lamba Rashtriya Rajmarg kon sa hai

Uttar Pradesh Ka Sabse Lamba Rashtriya Rajmarg “NH19” है। क्योंकि यह उत्तर प्रदेश में 120 किलोमीटर की दुरी तय करता है। साथ ही यह महान ग्रैंड ट्रंक रोड का भी हिस्सा है। यह उत्तर प्रदेश और बिहार दोनों स्थानों पर 120-120 किलोमीटर की दुरी तय करता है।

उत्तर प्रदेश में कितने राष्ट्रीय राजमार्ग गुजरते हैं? | uttar pradesh me kitne rajmarg gujarte hain in hindi

दोस्तों, आज के समय कुल मिलाकर 48 ऐसे राष्ट्रीय राजमार्ग हैं जिनकी लंबाई तकरीबन 5599 किलोमीटर की है, जो या तो उत्तर प्रदेश से शुरू होते हैं, या उत्तर प्रदेश से होकर गुजरते हैं, या उत्तर प्रदेश में समाप्त होते हैं।

इनके नाम कुछ इस प्रकार है:-

National Highway Number 2, National Highway Number 3, National Highway Number 19, National Highway Number 28, National Highway Number 56A, National Highway Number 56B, National Highway Number 58, National Highway Number 76, National Highway Number 91A, National Highway Number 233a, National Highway Number 28A, National Highway Number 233B।

National Highway Number 21, National Highway Number 24, National Highway Number 27, National Highway Number 28, National Highway Number 30, National Highway Number 31, National Highway Number 34, National Highway Number 35, 39, 44 ।

National Highway Number 123, 124C , 124D, 128A, 128B, 128C, 135 135A, 135B, 135BB, 135BG, 135C, National Highway 219 National Highway 227A National Highway 230, 233, 234, 235.

National Highway 307, 319D, 321, 321G, 328, 328, 330, 330A, 330B, 330D, 334A, 334B, 334D, 334DD, 344, National Highway 509, 519, 530, 530B, 552, National Highway 709A, 709B, 719, 727A, 727AA, 727B, 727BB, 727G, 727H, 730, 730A, 730B, 730C, 730H, 730S, 731, 731A, 731AG, 731K, National Highway 931, 931A भारत के यह सभी राष्ट्रीय राजमार्ग उत्तर प्रदेश से या तो शुरू होते हैं या होकर गुजरते हैं या समाप्त होते हैं।

भारत में सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग कौन सा है? | bharat me sabse lamba rashtriya rajmarg kon sa hai

भारत में सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग NH 44 है, अर्थात राष्ट्रीय राजमार्ग 44 है। यह भारत के उत्तरी भाग को भारत के दक्षिणी भाग से जोड़ता है, इसीलिए यह भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग है। यह पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु सभी राज्यों को एक सीधी रेखा में जोड़ता है।

यह जम्मू कश्मीर के श्रीनगर से शुरू होता है तथा तमिलनाडु के कन्याकुमारी में इसका समापन होता है। यह भारत के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग को पूर्ण रूप से आवश्यक रूप से मिलाकर अस्तित्व में आया है।

यदि हम कुछ मुख्य शहरों की बात करें तो यह श्रीनगर, अनंतनाग, जम्मू, पठानकोट, दोसा, जालंधर, लुधियाना, अंबाला, कुरुक्षेत्र, करनाल, पानीपत, सोनीपत, दिल्ली, फरीदाबाद, मथुरा, ग्वालियर, झांसी, ललितपुर, सागर, सिवनी, नागपुर, हिंगणघात, आदिलाबाद, निजामाबाद, कमारेड्डी, हैदराबाद, जड़चेरला, कुरनूल, गूटी, अनंतपुर, चिक्काबल्लापुर, बेंगलुरु, होसुर, कृष्णागिरी, धर्मपुर, सेलम, नमक्कल, करूर, डिंडीगुल, मदुरई, तिरुनेल्वे, विरुधु, कन्याकुमारी, इन सभी बड़े तथा महत्वपूर्ण शहरों से होकर nh-44 गुजरता है।

भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है? | bharat me sabse chota rashtriya rajmarg kon sa hai

भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग NH-548 है। NH 548 महाराष्ट्र से शुरू होकर महाराष्ट्र में ही खत्म हो जाता है। इसकी कुल लंबाई 5.67 किलोमीटर है, जो की पूरी तरह से 2 जिलों में भी नहीं पाई जा सकती। यह कलंबोली से शुरू होती है, तथा ठीक 5.67 किलोमीटर पश्चात समाप्त हो जाती है।

भारत का सबसे पुराना National Highway कौन सा है? | bharat ka sabse purana national highway  kon sa hai

भारत का सबसे पुराना National Highway ग्रैंड ट्रंक रोड है। ग्रैंड ट्रंक रोड को उत्तरापथ, सड़क-ए-आजम, बादशाही सड़क के नाम से जाना जाता है। यह भारत की और पूरे एशिया की सबसे पुरानी सड़क है। यह तकरीबन 2500 वर्ष पुरानी है। ग्रैंड ट्रंक रोड का रास्ता काबुल के अफगानिस्तान से चटगाँव तक जाता है।

यह भारत के कोलकाता से होते हुए बांग्लादेश के ढाका तक पहुंचता है। भारत के महान सम्राट और मौर्य साम्राज्य के चंद्रगुप्त मौर्य ने तीसरी शताब्दी में उत्तरापथ की रचना की थी। इसी प्राचीन मार्ग का उपयोग करते हुए चन्द्रगुप्त मौर्य ने अपना राजमार्ग बनाया था, और इसी राजमार्ग के सहारे उन्होंने अपने साम्राज्य को उत्तरी पश्चिमी सीमा तक चलाया था।

ग्रैंड ट्रंक रोड। उत्तर पश्चिम से काबुल अफगानिस्तान से शुरू होती है, और पाकिस्तान के इस्लामाबाद को पार करते हुए पाकिस्तान के लाहौर तक पहुंचती है। जिसके पश्चात पंजाब से होते हुए दिल्ली की ओर प्रस्थान करती है। जिसके बाद यह उत्तर प्रदेश को पार करते हुए पश्चिम बंगाल के कोलकाता के मध्य में आती है, और कोलकाता को पार करते हुए ढाका में घुस जाती है और ढाका को पार करते हुए चटगांव तक पहुंचती है और इसके पश्चात म्यांमार के सिटवे तक पहुंचती है।

Also read:

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने आपको बताया कि देश में कुल कितने राष्ट्रीय राजमार्ग हैं, तथा उत्तर प्रदेश में कितने राष्ट्रीय राजमार्ग गुजरते हैं, और राष्ट्रीय राजमार्ग के बारे में हमने आपको कई अन्य जानकारी उपलब्ध कराई है।

हम आशा करते हैं कि आज का यह लेख पढ़ने के पश्चात Uttar Pradesh Ka Sabse Lamba Rashtriya Rajmarg कौनसा है, यह जानकारी प्राप्त करने के लिए आप को अन्य किसी लेख को पढ़ने की आवश्यकता नहीं होगी। यदि आपके मन में इस लेख से सबंधित कोई है जो आप हमसे पूछना चाहता है तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

FAQ

उत्तर प्रदेश का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग कौन सा है?

इसकी लंबाई 4117 किमी है। सबसे छोटा राजमार्ग NH 966B हैं यह वेलिंगटन से कोच्चि है।

उत्तर प्रदेश में कुल कितने राष्ट्रीय राजमार्ग है?

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में 81 नेशनल हाईवे हैं. उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग की कुल लंबाई 11,737 किलोमीटर है।