राधा की मृत्यु किस पाप के कारण हुई थी?

नमस्कार दोस्तो, यदि आप हिंदू धर्म के अंतर्गत विश्वास रखते हैं, या फिर कृष्ण के अंतर्गत विश्वास रखते हैं, तो आपको राधा के बारे में तो जरूर पता होगा, इसके अलावा आपने राधा की मृत्यु के बारे में तो अपने जीवन के अंतर्गत जरूर सुना होगा। दोस्तों क्या आप जानते हैं, कि राधा की मृत्यु किस पाप के कारण हुई थी। यदि आपको इस विषय के बारे में कोई जानकारी नहीं है, तथा इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इसके बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताने वाले हैं, कि राधा की मृत्यु किस पाप के कारण हुई थी, इसके अलावा हम आपको इस विषय से जुड़ी हर एक जानकारी इस पोस्ट में देने वाले हैं।

राधा की मृत्यु किस पाप के कारण हुई थी?

राधा की मृत्यु कैसे हुई | Radha ne aisa kya paap kiya tha?

अगर दोस्तों आप भी इस विषय के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, कि राधा की मृत्यु किस पाप के कारण हुई थी तो आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि राधा की मृत्यु किसी भी पाप के कारण नहीं हुई थी। अपने कई अलग-अलग जगहों पर सुना होगा कि राधा की मृत्यु किसी पाप के कारण हुई थी, लेकिन दोस्तों आपने जहां पर भी यह बात सुनी है, वह बात पूरी तरह से गलत है, क्योंकि राधा की मृत्यु किसी भी पाप के कारण नहीं हुई थी।

इसके अलावा अगर बात की जाए कि राधा की मृत्यु किस कारण हुई थी, तो आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि हिंदू धर्म के कई ग्रंथों के अनुसार ऐसा माना गया है कि राजा अपने अंतिम दिनों में भगवान श्री कृष्ण से मिलने के लिए द्वारिका गई थी, और जब काफी सालों बाद कृष्ण ने राधा को देखा तो है काफी प्रसन्न हो गए थे, और ऐसे में राधा कृष्ण के महल में रहने लगी थी।

इसके बाद काफी दिनों के बाद कृष्ण के महल में राधा को ऐसा लगा कि वह आकर्षण से पहले की तरह मन से जुड़ी हुई नहीं है। यानी कि कृष्ण और राधा के बीच में पहले जो लगाव था ,आज के समय वह नहीं है। तो ऐसे में राधा ने कृष्ण को बिना बताए ही कृष्ण का महल छोड़ने का निर्णय ले दिया था राधा को लगता है, कि वह कृष्ण से दूर होकर उनके मन से जुड़ सकती है।

जब राधा के जीवन के कुछ क्षण रह गए थे या फिर जब रात या अपने अंतिम दिनों के अंतर्गत थी। तब कृष्ण ने राधा की जीवन की आखिरी इच्छा पूछी तब राधा ने कहा कि वह आपको बांसुरी बजाते हुए देखना चाहते हैं।

जैसे ही श्री कृष्ण ने बांसुरी को बजाना शुरू किया, तो राधा कृष्ण की बांसुरी की धुन सुनते सुनते उन्होंने अपने देह को त्याग दिया था।

तो दोस्तों इस तरह से राधा की मृत्यु हुई थी। ना कि राधा की मृत्यु किसी पाप के कारण हुई थी।

राधा ने शादी क्यों नहीं की थी?

जैसा कि दोस्तों बहुत से लोगों के मन में यह सवाल होता है, कि यदि राधा और कृष्ण के बीच इतना ज्यादा प्यार था, तथा वह दोनों एक दूसरे से बहुत ज्यादा प्यार करते थे, तो उन दोनों ने शादी क्यों नहीं की थी। यदि दोस्तों आपके मन में भी यह सवाल है, तथा आप भी इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि राधा और कृष्ण पूरी दुनिया को यह बताना चाहते थे, कि प्रेम और शादी दोनों अलग-अलग बस तू यह होती है प्रेम निस्वार्थ भावना होती है, इसके अलावा शादी एक प्रकार का समझौता होता है, तथा एक प्रकार का संबंध होता है।

तो इस पोस्ट के अंतर्गत हमने आपको बताया कि राधा की मृत्यु किस बात के कारण हुई थी, इसके अलावा इस विषय से जुड़ी अन्य जानकारी अभी हमने आपके साथ शेयर की है। हमें उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई है, फिर तो आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया जानने को मिला है।

Also read:

कौन कौन से बैंक प्राइवेट है और कौन सा सरकारी List भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है?
श्री शिवाय नमस्तुभ्यं मंत्र के फायदे क्या है? भारत का राष्ट्रीय खेल कौन सा है?
पालक में कौन सा अम्ल पाया जाता है? भारत का राष्ट्रीय पशु कौन सा है? विशेषता, महत्व, और जुर्माना
भारत की पहली महिला फायर फाइटर कौन है? भारत का राष्ट्रीय फूल कौन सा है? उपयोग, और महत्व
Asclepius Wellness product Details in Hindi भारत का राष्ट्रीय गीत कौन सा है?
पित्त की थैली का ऑपरेशन का खर्चा कितना आता है? भारत का राष्ट्रीय सब्जी क्या है? वैज्ञानिक नाम, और फायदे
घर में कौन-कौन सी मूर्तियां रखनी चाहिए भारत का राष्ट्रीय पेड़ कौन सा है? फल, उपयोग, और फायदे
पूजा कब नहीं करनी चाहिए भारत का राष्ट्रीय चिन्ह क्या है? शिक्षा, और महत्व
लेखांकन क्या है?  भारत का राष्ट्रीय पक्षी कौन है?
राजस्थान में गाय की प्रमुख नस्लें कौन कौन सी है? भारत का राष्ट्रीय भोजन क्या है?

निष्कर्ष

आशा है या आर्टिकल आपको बहुत पसंद आया हुआ इस आर्टिकल में हमने बताया राधा की मृत्यु किस पाप के कारण हुई थी (raadha kee mrtyu kis paap ke kaaran huee thee) के बारे मे संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगे तो आप अपने दोस्तों के साथ भी Share कर सकते हैं अगर आपको कोई भी Question हो तो आप हमें Comment कर सकते हैं हम आपका जवाब देने की कोशिश करेंगे।

FAQ

राधा को श्राप क्यों मिला?

गोलोक में श्रीकृष्ण और राधा एक साथ निवास करते थे। एक बार, राधा की अनुपस्थिति में, कृष्ण विरजा नाम की एक गोपिका से प्रेम कर रहे थे। तब राधा वहां पहुंची और कृष्ण और विरजा का अपमान किया। इसके बाद राधा ने विरजा को पृथ्वी पर एक गरीब ब्राह्मण के रूप में पीड़ित होने का श्राप दिया।

राधा की उम्र कितनी थी?

बहुत कम लोग जानते होंगे कि राधा जी भगवान श्री कृष्ण से 3 वर्ष 11 माह बड़ी थीं। मान्यता है कि जब भगवान श्री कृष्ण ने रासलीला की थी। उस समय वे सात वर्ष के थे और वृन्दावन छोड़ने के समय वे ग्यारह वर्ष के थे।

राधा के कितने बच्चे हैं?

कर्ण का पालन-पोषण अधिरथ की पत्नी राधा ने किया, इसलिए कर्ण को राधेय या राधा का पुत्र भी कहा जाता है। ‘अंग’ देश के राजा कर्ण की पहली पत्नी का नाम वृषाली था। वृशाली से उन्हें वृषसेन, सुषेण, वृशकेत नाम के 3 पुत्र हुए। दूसरे सुप्रिया को चित्रसेन, सुशर्मा, प्रसेन, भानुसेन नामक 3 पुत्र हुए।

भगवान श्री कृष्ण बांसुरी क्यों तोड़ी?

कृष्ण जानते थे कि उनका प्रेम अमर है, फिर भी वे राधा की मृत्यु को सहन नहीं कर सके। कृष्ण ने प्रेम के प्रतीकात्मक अंत के रूप में बांसुरी को तोड़कर झाड़ी में फेंक दिया। तब से श्री कृष्ण ने जीवन भर बांसुरी या कोई अन्य वाद्य यंत्र नहीं बजाया।

राधा का असली पति कौन था?

रायण को रापना या अयंगघोष के नाम से भी जाना जाता था। पूर्व जन्म में राधा के पति रायण गोलोक में श्रीकृष्ण के गोप का अंग थे।

HomepageClick Hear